चर्चित फिल्‍मी सितारों के 10 फ्लॉप बच्‍चे

By: Inextlive | Publish Date: Fri 21-Apr-2017 12:01:05
A- A+
चर्चित फिल्‍मी सितारों के 10 फ्लॉप बच्‍चे
कहते हैं कि फिल्‍म जगत में वहीं सितारा चमकता है जिसका कोई गॉडफादर होता है। ऐसा हमेशा सच नहीं होता। बॉलीवुड में आपको ऐसे कई एक्‍टर-एक्‍ट्रेस मिल जाएंगे, जिनके पैरेंट्स किसी पहचान के मोहताज नहीं। मनोज कुमार से लेकर हेमा मालिनी तक और यश चोपड़ा से लेकर देव आनंद तक...ये वो नाम हैं जिनके बिना बॉलीवुड अधूरा रहता है। इसके बावजूद ये स्‍टार्स अपने बच्‍चों को ऊंचे मुकाम तक नहीं ले जा पाए। आइए जानते हैं इंडस्‍ट्री के 10 फ्लॉप बच्‍चों के बारें में....


1. मुनमुन सेन - राइमा सेन :
बंगाली एक्‍ट्रेस मुनमुन सेन की बड़ी बेटी राइमा सेन कुछ ही बॉलीवुड फिल्‍मों में नजर आईं। और उसके बाद गायब हो गईं। राइमा की उम्र 37 साल है और अब वह मुख्‍यत: बंगाली फिल्‍मों ही करती हैं।


2. हेमा मालिनी - ईशा देओल :
धर्मेंद्र और हेमा मालिनी की बेटी ईशा देओल ने शुरुआत में काफी धूम मचाई थी। लेकिन जल्‍द ही उनकी फिल्‍में पिटने लगीं। 35 साल की यह अभिनेत्री फिलहाल सितारों की लिस्‍ट से बाहर है।


3. यश चोपड़ा - उदय चोपड़ा :
बॉलीवुड के टॉप फिल्‍ममेकर यश चोपड़ा ने अपने बेटे उदय चोपड़ा को हीरो बनाने के लिए क्‍या कुछ नहीं किया। अपनी ब्‍लॉकबस्‍टर मूवी 'मोहब्‍बतें' में उदय का डेब्‍यू तो उन्‍होंने करा दिया, लेकिन उदय की बेकार एक्‍टिंग के कारण किसी ने उन्‍हें पसंद नहीं किया। उदय को लीड एक्‍टर के तौर पर 'मेरे यार की शादी है' और नील एण्‍ड निक्‍की फिल्‍में भी मिलीं लेकिन फिल्‍में हो गईं फ्लॉप और उदय का करियर धूम मूवी सीरीज में दौड़ लगाने के बाद भी स्‍पीड नहीं पकड़ पाया।


4. विनोद खन्ना - राहुल खन्ना:
बॉलीवुड के पूर्व सुपरस्‍टार विनोद खन्‍ना के बेटे राहुल खन्‍ना का फिल्‍मी करियर शुरू तो अच्‍छे से हुआ लेकिन वो यहां ज्‍यादा दिन तक टिक नहीं पाए। अपनी पहली फिल्‍म अर्थ में अच्‍छी एक्‍टिंग करने के कारण राहुल को फिल्‍म फेयर ने बेस्‍ट डेब्‍यू का अवार्ड भी दिया, लेकिन उनकी गाड़ी आगे न बढ़ सकी। दूसरी ओर द बर्निंग ट्रेन सहित तमाम बॉलीवुड फिल्‍मों के एक्शन हीरों विनोद खन्‍ना की फिल्‍में आज भी देखना लोग पसंद करते हैं।


5. शेखर सुमन - अध्ययन सुमन:
टीवी से लेकर बिग स्‍क्रीन तक सुपर स्‍टार रह चुके शेखर सुमन आज भी तमाम सुपरहिट टीवी शोज के होस्‍ट और जज बनकर छोटे पर्दे पर छाए हुए हैं जबकि उनके बेटे अध्ययन सुमन की झोली में मुश्किल से एक फिल्‍म आई थी। मूवी हॉल-ए-दिल में बढ़िया काम करने के बाद भी अध्ययन का फिल्‍मी करियर ठप्‍प सा हो गया। फिलहाल कंगना से अपने रिश्‍तों को लेकर अध्ययन जरूर सुर्खियों में बने हुए हैं।


6. शत्रुघ्न सिन्हा - लव सिन्हा:
बॉलीवुड में सिर्फ 'खामोश' बोलकर सबको अपना दमदार परिचय देने वाले शत्रुघ्न सिन्हा बॉलीवुड में अमिताभ बच्‍चन के बाद सेकेंड एंग्रीमैन माने जाते हैं। शत्रुघ्न सिन्हा की बेटी सोनाक्षी ने भले ही बॉलीवुड फिल्‍मों में अपना सफलता के झंडे गाड़ दिए हैं, लेकिन उनके बेट लव सिन्‍हा को फिल्‍म इंडस्‍ट्री कोई भी नही जानता। साल 2010 में मूवी 'सदियां' से लव ने डेब्‍यू किया था। फिल्‍म पिटने के साथ ही वो भी बॉलीवुड से आउट हो गए। अब लव सिन्‍हा किसी अच्‍छे रोल की इंतजार कर रहे हैं।


7. शशि कपूर - करण कपूर:
हिंदी सिनेमा के एवरग्रीन रोमांटिक बॉय शशि कपूर को उनकी अनोखी डांसिंग स्‍टाइल और रोमांटिक फिल्‍मों के लिए आज भी जाना जाता है। लेकिन उनके बेटे करण कपूर बॉम्‍बे डाइंग के पोस्‍टर बॉय से ज्‍यादा कुछ नहीं बन सके। करण कपूर का लुक और स्‍टाइल तो हीरो जैसा ही था, लेकिन एक्‍टिंग के नाम पर उन्‍हें कुछ भी नहीं आता था। अपनी पहली फिल्‍म सुल्‍तान के बुरी तरह से पिटने के बाद करण ने बॉलीवुड छोडने में ही अपनी भलाई समझी।


8. मनोज कुमार - कुणाल गोस्वामी:
बॉलीवुड में देशभक्‍ित फिल्‍मों के सबसे बड़े स्‍टार मनोज कुमार ने उपकार, पूरब और पश्‍चिम जैसी फिल्‍मों के दम पर शानदार सफलता पाई। वहीं उनके बेटे कुणाल गोस्वामी ने 'नंबरी आदमी, पाप की दुनिया और घुंघरू' आदि कई फिल्‍मों में काम तो किया लेकिन उनकी खराब एक्‍टिंग के कारण फिल्‍में बुरी तरह से पिट गईं। इसके बाद कुणाल गोस्वामी का फिल्‍मी करियर ही खत्‍म हो गया।


9. मिथुन चक्रवर्ती - मिमोह चक्रवर्ती:

बॉलीवुड के डिस्‍को डांस स्‍टार मिथुन चक्रवर्ती अपनी यूनीक डांसिंग के कारण सालों तक दर्शकों के दिलों पर छाए रहे। दूसरी ओर उनका बेटा मिमोह चक्रवर्ती सफलता का असली स्‍वाद भी न चख सके। फिल्‍म जिमी से करियर की शुरूआत करने वाले मिमोह ने हॉन्‍टेड 3D, ऐनेमी, लूट आदि कई छोटी फिल्‍मों में काम तो किया, लेकिन ये सभी फिल्‍में फ्लॉप साबित हुईं।


10. देव आनंद - सुनील आनंद:
बॉलीवुड के महान एक्‍टर देव आनंद ने सौ से ज्‍यादा बेहतरीन फिल्‍मों से जो मुकाम बनाया वो वाकई लाजवाब है। देव आनंद ने एक्‍टिंग के साथ साथ तमाम सुपरहिट फिल्‍मों का डायरेक्‍शन भी किया था। अपने पिता के विपरीत उनके बेटे सुनील आनंद बॉलीवुड में हवा की तरह आए और पानी की तरह चले गए। साल 1984 में देव आनंद ने सुनील को 'आनंद और आनंद' फिल्‍म से लॉंच किया, लेकिन सुपर फ्लॉप साबित हुई। सुनील ने बाद में कई और फिल्‍मों में भी काम किया लेकिन सफलता ने मिलने से उन्‍होंने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk