- विधान परिषद की 13 सीटों पर होने वाले चुनाव को लेकर कुल 13 नामांकन हुए

- भाजपा के दस तो अपना दल के एक प्रत्याशी ने किया सोमवार को नामांकन

- सपा के नरेश उत्तम भी पहुंचे नामांकन करने, तमाम सपा एमएलसी रहे मौजूद

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW : सूबे में विधान परिषद की 13 सीटों पर होने वाले चुनाव में अब तक 13 नामांकन होने से यह तय हो गया कि सारे प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित होंगे. सोमवार को भाजपा ने अपने 10 प्रत्याशियों का नामांकन संपन्न कराया तो भाजपा के सहयोगी अपना दल (एस) के आशीष सिंह पटेल ने भी पर्चा दाखिल कर दिया. इस दौरान उनकी पत्नी एवं केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल भी मौजूद थीं. भाजपा प्रत्याशियों के नामांकन से पहले सपा प्रत्याशी नरेश उत्तम पटेल ने भी नामांकन किया. गौरतलब है कि बीएसपी के प्रत्याशी भीमराव अंबेडकर पहले ही नामांकन कर चुके हैं.

लखनऊ के 'नवाब' भी हमारे साथ

भाजपा प्रत्याशियों के नामांकन से पहले पार्टी मुख्यालय पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें बधाई दी. इस दौरान बुक्कल नवाब को आने में थोड़ी देर हो गयी. जैसे ही वह मुख्यालय के सभागार में दाखिल हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे साथ तो लखनऊ के नवाब भी हैं. यह सुनते ही पूरे सभागार में ठहाके लगने लगे. मुख्यमंत्री ने सभी प्रत्याशियों को बधाई देते हुए कहा कि भाजपा राजनीति में विश्वसनीयता का प्रतीक है. आज से नौ महीने पहले कुछ लोग अपनी सदस्यता छोड़कर भाजपा में आये थे, उन्होने भाजपा के मूल्यों और आदर्शो पर विश्वास किया था. उस विश्वसनीयता के साथ-साथ सामाजिक समीकरण में से पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को भाजपा ने प्रत्याशी बनाया है. विकास और सुशासन की जिस मुहिम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश और दुनिया के सामने स्थापित किया है, उस मुहिम में सभी सिपाही बनकर के उसे आगे बढाएंगे. इस दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडे, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, सूर्य प्रताप शाही, सतीश महाना समेत तमाम मंत्री तथा विधानसभा के सचेतक वीरेंद्र सिंह सिरोही उपस्थित थे. तत्पश्चात सारे प्रत्याशियों ने विधानभवन जाकर टंडन हॉल में नामांकन दाखिल किया. भाजपा की ओर से सबसे पहले विद्यासागर सोनकर ने पर्चा दाखिल किया.

सपा ने भी दिखाई ताकत

वहीं सुबह 11 बजे सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने विधानभवन आकर नामांकन किया. इस दौरान विधान परिषद में नेता विरोधी दल अहमद हसन, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी समेत तमाम एमएलसी और विधायक मौजूद थे. नामांकन करने के बाद नरेश उत्तम ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का आभार जताया. उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व ने मुझे तीसरी बार उच्च सदन भेजने का निर्णय लिया है. उन्होंने दावा किया कि सपा और बसपा के प्रत्याशी आसानी से चुनाव जीतेंगे. वहीं भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्यसभा चुनाव में पूंजीपति प्रत्याशी को उतारकर कमजोर तबके का प्रतिनिधित्व करने वाले बसपा प्रत्याशी को हराने से राजनीति की शुचिता प्रभावित हुई. भाजपा के लोग क्या बोल दें और क्या कर दें, कुछ नहीं कहा जा सकता है.

इन्होंने किया आज नामांकन

- भाजपा के डॉ. महेंद्र सिंह, मोहसिन रजा, सरोजनी अग्रवाल, बुक्कल नवाब, यशवंत सिंह, जयवीर सिंह, विद्यासागर सोनकर, विजय बहादुर पाठक, अशोक कटारिया, अशोक धवन.

- अपना दल (एस) के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष सिंह पटेल

- सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल

19 को मिल जाएगा प्रमाण पत्र

निर्वाचन अधिकारी अशोक चौबे ने बताया कि मंगलवार को नामांकन पत्रों की जांच होगी. आगामी 19 अप्रैल को नाम वापसी है और उसी दिन तीन बजे के बाद सभी उम्मीदवारों को प्रमाण पत्र दे दिया जाएगा. इस चुनाव में 26 अप्रैल को मतदान सुनिश्चित था, लेकिन अब मतदान की नौबत नहीं आएगी. सोमवार को दिन में तीन बजे के बाद ही पूरी स्थिति स्पष्ट हो गई क्योंकि किसी 14वें उम्मीदवार ने नामांकन नहीं किया. सोमवार को तीन बजे तक नामांकन का अंतिम समय था.