सरकारी कार्यालयों में स्मोकिंग पर 200 रुपये जुर्माना

By: Inextlive | Publish Date: Fri 12-Jan-2018 07:01:24
A- A+

सभी सरकारी कार्यालयों में नो स्मोकिंग का डिक्लेयरेशन

स्मोकिंग करते हुए पकड़े जाने पर देने होंगे 200 रुपये जुर्माना

आज विभिन्न विभागों के साथ सीडीओ सभागार में डीएम करेंगे मंथन

MEERUT। मेरठ के सभी सरकारी दफ्तरों और पब्लिक प्लेसेज पर अब स्मोकिंग करने, मसाला चबाने पर 200 रुपये का जुर्माना देना होगा। सिगरेट एंड अदर टुबैको प्रोडक्ट्स एक्ट (कोटपा) के तहत ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सरकारी दफ्तर अब नो स्मोकिंग जोन घोषित होंगे और हर दफ्तर पर इसकी चेतावनी भी चस्पा होगी। इस संबंध में डीएम समीर वर्मा और सीएमओ डॉ। राजकुमार आज विकास भवन स्थित सभागार में सभी विभागों के साथ मीटिंग कर आदेश के अनुपालन की दिशा- निर्देश तय करेंगे।

विभागों को दिए जाएंगे निर्देश

सीएमओ डॉ। राजकुमार ने बताया कि शुक्रवार को डीएम की अध्यक्षता में राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत एक दिवसीय ओरिएंटेशन ऑफ लॉ एनफार्सेस का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान पुलिस, ड्रग्स, खाद्य, औषधि, नगर निगम सहित सभी सरकारी अफसरों को अपने अधिकार क्षेत्र में कोटपा को सख्ती से लागू करने पर कार्ययोजना तैयार होगी। सीएमओ ने कहा कि जो भी व्यक्ति या कर्मचारी एक्ट का उल्लंघन करेगा उससे 200 रुपये जुर्माना वसूला जाएगा। वर्कशाप में एक्ट के इम्प्लीमेंटेशन के लिए इससे जुड़े अफसर, टॉस्क फोर्स का गठन भी किया जाएगा। नाबालिगों को टुबैको प्रोडक्ट्स की बिक्री न की जाए इस व्यवस्था को प्रभावी बनाने के लिए कार्यशाला में मंथन होगा।

बिना चेतावनी बिक्री पर रोक

कोटपा के तहत शहर में टुबैको प्रोडक्ट्स विक्रेता अपनी दुकान के बाहर टुबैको से खतरे की चेतावनी जरूर चस्पा करेंगे। चेतावनी बोर्ड पर टुबैको प्रोडक्ट के सेवन से होने वाले खतरों की जानकारी होगी साथ ही यह भी जानकारी होगी कि 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को टुबैको प्रोडक्ट की बिक्री करना दंडनीय अपराध है।

स्कूल गेट पर चस्पा होंगे निर्देश

निर्देशों के तहत सरकारी ऑफिसेस के अलावा जनपद के सभी शिक्षण संस्थानों के गेट पर तंबाकू निषेध का बोर्ड लगाना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही शिक्षण संस्थानों के 100 मीटर दायरे में किसी भी प्रकार के तंबाकू उत्पाद की बिक्री पर कार्रवाई होगी।

कोटपा के निर्देशों को सख्ती से लागू किया जाए, इस संबंध में आज विकास भवन सभागार में विभिन्न अधिकारियों के साथ मीटिंग है। दिनभर चलने वाली इस कार्यशाला में एक्ट के तहत तंबाकू उत्पादों की बिक्री की प्रभारी कार्ययोजना बनेगी।

समीर वर्मा, डीएम, मेरठ

inextlive from Meerut News Desk