सीरिया में हवाई हमला
सीरिया में वहां की सेना और रूसी सेना द्वारा शुक्रवार को एक साथ दो जगहों पर हवाई हमले किये गए, जिसमें कुल मिलकर 68 नागरिकों की मौत हो गई। बता दें कि सेना और रूसी सेना ने सीरिया में दमिश्क के पास विद्रोहियों के कब्जे वाले शहर पर पहले हमला किया, जिसमें करीब 46 लोग मारे गए। इसके बाद सेना ने दूसरा हमला कुर्द के कब्जा वाले शहर पर किया, जिसमें 22 लोग मारे गए।

कफ्र बाटना में बमबारी
इस हवाई हमले में कई लोगों के गंभीर रूप से घायल होने की भी खबर है, जिनका इलाज अभी वहां के स्थानीय अस्पतालों में चल रहा है। इस मामले में सीरियन ऑब्ज़र्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने बताया कि रूसी जेट विमानों ने मैदान पर अपने एक्टिविस्‍ट नेटवर्क के इशारे पर हमले किए थे। उन्होंने कहा कि दमिश्क के पास विद्रोहियों के कब्जा वाले पूर्वी घोउटा क्षेत्र में सीरियाई और रूसी विमानों ने कफ्र बाटना में बमबारी की।

करीब 5000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया
रूसी रक्षा मंत्रालय का इस मामले में कहना है कि शुक्रवार को करीब 5000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया और इससे पहले 10,000 लोगों को वहां से निकाला गया था। गौरतलब है कि पूर्वी घोउटा क्षेत्र में सीरियाई सेना और रूसी सेना द्वारा पिछले एक महीने से विद्रोहियों पर लगातार हमले किये जा रहे हैं। इसमें अब तक हजारों लोग प्रभावित हो चुके हैं। गुरुवार को भी पूर्वी घोउटा में जबरदस्‍त हवाई हमले हुए, जिसके बाद वहां के हजारों नागरिक सरकार द्वारा नियंत्रित क्षेत्र में भाग आए।

राहुल की अध्यक्षता में कांग्रेस का पहला महाधिवेशन आज, 4 प्रस्तावों संग तय होगी 5 साल की दशा-दिशा

International News inextlive from World News Desk