ये ई-केवाईसी इसल‍िए जरूरी:
नो यॉर कस्टमर को ही केवाईसी कहते हैं। अब यह ऑनलाइन होने की वजह से इसे ई-केवाईसी कहते हैं। वर्तमान में बड़ी संख्‍या में सिम फर्जीवाड़े के मामले सामने आए हैं। जिसके बाद से सुप्रीम कोर्ट ने स‍िम की ई-केवाईसी कराने को कहा है। इसमें अब सभी स‍िम को आधार नंबर से ल‍िंक कराना अनि‍वार्य होगा। वरना फरवरी 2018 में बंद हो जाएगा।


यहां कराएं सि‍म आधार से लिंक:
खास बात तो यह है क‍ि अब नया नंबर लेने या फिर पोर्ट कराने पर भी यूजर्स को अपने आधार कार्ड की डिटेल देना जरूरी होगा। सरकार के आदेश के बाद इस दिशा में काम शुरू हो गया है। ई-केवाईसी को आप किसी प्रोवाइडर कंपनी के स्‍टोर से भी करा सकते हैं। हालांकि यह ई-केवाईसी वाला काम वही स्‍टोर करेगे जो प्वाइंट ऑफ सेल के तहत ऑथराइज्ड होंगे।


24 घंटे बाद स‍िम होगा अपडेट:
ये सभी स्‍टोर ग्राहक की बायोमेट्रिक के जरिए डिटेल लेने के बाद उसे यूनिक आडेंटिफिकेशन ऑथरिटी ऑफ इंडिया को भेज देंगे। इस दौरान उपभोक्‍ता का सत्‍यापन भी क‍िया जाएगा। इस प्रॉसेस से गुजरने के बाद 24 घंटे बाद यूजर्स का सिम नंबर अपडेट हो जाएगा। इसमें उसकी हर एक जरूरी डिटेल भी अपडेट हो जाएगी। इसका मैसेज भी आएगा।

20 साल से एक ही टी-शर्ट पहन रहा है यह आदमी, वजह! दिल छू लेगी आपका

Interesting News inextlive from Interesting News Desk

Business News inextlive from Business News Desk