सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवक को ट्रक ने रौंदा, मौत

By: Inextlive | Publish Date: Thu 07-Dec-2017 04:01:20
A- A+
सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवक को ट्रक ने रौंदा, मौत

- मीरगंज में धनेटा क्रॉसिंग पर तड़के सुबह हुआ हादसा

- सेना 5ार्ती की तैयारी के लिए साथियों के साथ दौड़ लगा रहा था

- ट्रक में फंसा युवक एक किमी। तक घिसटता रहा, जब तक साथी मौके पर पहुंचे हो चुकी थी मौत

<द्गठ्ठद्द>क्चन्क्त्रश्वढ्ढरुरुङ्घ/रूश्वश्वक्त्रद्दन्हृछ्व<द्गठ्ठद्दद्गठ्ठस्त्र> :

सेना 5ार्ती की तैयारी करने के लिए हाइवे किनारे दौड़ने निकले एक छात्र को वेडनसडे सुबह 5:30 बजे ट्रक ने रौंद दिया। हादसा फतेहगंज पश्चिमी थाना के धनेटा क्रॉसिंग के पास हुई। टक्कर लगने के बाद छात्र की बॉडी ट्रक में फंसकर करीब एक किमी रोड पर घिसटता गया। ट्रक के पीछे दौड़े यात्री जब तक मौके पर पहुंचे युवक की मौत हो चुकी थी। साथियों सूचना मिलते ही मृतक के परिजन मौके पर पहुंचे और रोड पर शव र2ाकर हाइवे पर जाम लगा दिया.

सुबह 5:30 बजे की घटना

फतेहगंज पश्चिमी थाना क्षेत्र गांव सहसा निवासी 5ानू प्रताप 22 वर्ष सुबह को सेना 5ार्ती की तैयारी करने के लिए हाइवे पर साथियों के साथ दौड़ने के लिए निकला था। वह साथियों के साथ हाइवे धनेटा क्रॉसिंग के पास क्रॉस कर रहा था। त5ाी रामपुर की तरफ से आए अनियंत्रित ट्रक ने उसे पीछे से रौंद दिया। ट्रक की टक्कर लगने से 5ानुप्रताप ट्रक में फंस गया। उसके साथी पीछे से शोर मचाते रहे लेकिन डा्रइवर ने ट्रक की र3तार तेज कर दी। पीछे से दौड़ते हुए 5ानुप्रताप के साथी आए तो दे2ा 5ानुप्रताप का क्षत- विक्षत शव ट्रक से निकलकर पुल के पास पड़ा था ड्राइवर ट्रक लेकर फरार हो गया। साथियों ने सूचना धनेटा क्रॉसिंग पर लगी पुलिस पिकेट को दी, लेकिन पुलिसकर्मियों ने छात्रों को 5ागा दिया। मृतक के साथियों का आरोप है कि पुलिस ने न तो ए6बुलेंस उपल4ध कराई और न ट्रक को पकड़ा।

छह घंटे लगा रहा हाइवे जाम

धनेटा रेलवे क्रॉसिंग के पास हाइवे पर हुए हादसे की सूचना मिलते ही परिजन मौके पर पहुंच गए। उन्होंने आरोप लगाया कि सूचना के बाद 5ाी पिकेट पुलिस ने ट्रक को क4जे में नहीं लिया, जिससे वह फरार हो गया। गुस्साए ग्रामीणों के साथ महिलाएं 5ाी हाथों में डंडा लेकर रोड पर उतर आई और रोड पर बैठकर जाम लगा दिया। रोड पर महिलाओं के बैठ जाने से हाइवे पर दे2ाते ही दे2ाते कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया। हंगामा कर रहे लोगों ने पुलिस पर पैसे लेकर ट्रक और ड्राइवर को 5ागाने का आरोप लगाया.

दो घंटे देरी से पहुंची यूपी 100

हाइवे पर हादसे की सूचना मृतक के साथियों ने क्रॉसिंग पर मौजूद पिकेट को दी। लेकिन जब पिकेट ने मदद नहीं की तो थाना पुलिस को 5ाी फोन किया। आरोप है कि दो घंटे बाद यूपी 100 पीआरवी मौके पर पहुंची। लेकिन तब तक हाइवे पर दोनों तरफ ल6बा जाम लग चुका था। यूपी 100 पुलिस कर्मियों ने हंगामा कर रही प4िलक से हाइवे का जाम 2ाोलने की बात कहीं लेकिन वह नहीं माने और मुआवजे की डिमांड पूरी करने की मांग करने लगे। पीआरवी ने इसकी सूचना सीओ और थाना पुलिस को दी। जिसके बाद सीओ फतेहगंज और मीरगंज पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे, लेकिन बात नहीं बनी तो करीब दर्जन 5ार देहात के साथ शहर के थाना से फोर्स मंगानी पड़ी।

मुआवजा की मांग के बाद 2ाुला जाम

हाइवे पर सुबह 6 बजे से जाम लगे हुए करीब 10 बज गए, लेकिन जाम नहीं 2ाुला। जिसके बाद प्रशासन ए1शन में आया और एसपी देहात डॉ। 2याति गर्ग, सिटी मजिस्ट्रेट यूपी सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और हाइवे पर जाम लगाकर बैठी प4िलक को हटाने का प्रयास किया। जिस पर प4िलक ने कहा कि मृतक के परिवार को चार बीघा जमीन, सीएम राहत कोष से मदद, एक कमरा और आरोपियों पुलिस कर्मियों के 2िालाफ कार्रवाई की मांग की। जिसे सिटी मजिस्ट्रेट ने मान लिया, लेकिन इसके 5ाी प4िलक जाम 2ाोलने को तैयार नहीं हुई। 5ाीड़ का कहना था कि अफसर घोषणा तो कर जाते है, लेकिन बाद में 5ाूल जाते हैं। इसी पर क्षेत्रीय 4लॉक प्रमु2ा राजीव गुप्ता, तहसीलदार अ5ाय कुमार और प्रधान पति ने जि6मेदारी ली कि वह अफसरों से वादा पूरा कराएंगे। इसके बाद प4िलक ने 11 बजे हाइवे का जाम 2ाोल दिया.

inextlive from Bareilly News Desk