-सिटी मजिस्ट्रेट ने जारी किया नोटिस

-जवाब न देने पर तोड़े जा सकते हैं अवैध होटल्स

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

मानकों को दरकिनार कर अवैध रूप से चारबाग, नाका और कैसरबाग एरिया में चल रहे 39 होटलों को सिटी मजिस्ट्रेट ने नोटिस जारी किया है. सभी होटल मालिकों को 15 दिनों के अंदर मानकों को पूरा कर जवाब देना होगा. ऐसा न करने पर एक अंतिम नोटिस जारी करने के बाद जिला प्रशासन इन्हें तोड़ने की कार्रवाई कर सकता है.

कैसे खड़े हो गये 133 होटल

चारबाग, नाका और कैसरबाग एरिया में एक के बाद एक 133 होटल अवैध रूप से खड़े हो गये. यहां न तो पार्किंग बनी है न ही प्रदूषण, फायर व अन्य मानकों का ध्यान रखा गया. 10 फिट की गलियों में चार से पांच मंजिला इमारतें खड़ी हो गई हैं. कई गलियां तो ऐसी हैं जिनमें फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी नहीं जा सकती है. यही नहीं होटल्स में फायर फाइटिंग सिस्टम भी इंस्टाल नहीं किए गए. मानकों का उल्लंघन करने पर पूर्व में जिला प्रशासन ने सभी को नोटिस जारी की थी, लेकिन इनमें 39 होटल ऐसे निकले जिन्होंने नोटिस का जवाब ही नहीं दिया.

30 तक देना होगा जवाब

सिटी मजिस्ट्रेट विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि सभी 39 होटल्स को सीआरपीसी 133 के तहत रिमाइंडर नोटिस जारी की गई है. सभी को 30 सितंबर तक जवाब देना होगा. जवाब न देने वालों को एक अंतिम नोटिस दी जाएगी. फिर भी जवाब न देने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. बाकी अन्य होटलों के जवाब आ गए हैं. जल्द ही सभी का सर्वे कराकर आगे कार्रवाई की जाएगी.