न्ष्ठढ्ढञ्जङ्घन्क्कक्त्र: आदित्यपुर नगर निगम में छिटपुट घटना को छोड़कर शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव हुआ. निगम चुनाव के दौरान सुबह साढ़े छह बजे से मतदाताओं की भीड़ मतदान केंद्र पर जुटनी शुरू हो गई थी, लेकिन कई जगहों पर ईवीएम में गड़बडी के कारण मतदान कार्य विलम्ब से शुरू किया गया.

देर से शुरू हुआ मतदान

वार्ड संख्या 28 में 1 नम्बर ई वी एम में गड़बडी के कारण सुबह करीब साढे 7 बजे वोटिंग शुरू हुई. वहीं आवास बोर्ड के स्थित मतदान केंद्र पर ई वी एम नबंर 1 व 4 के गड़बडी के कारण करीब पंद्रह मिनट विलम्ब से मतदान कार्य शुरू किया गया. वही वार्ड संख्या 17 में 45 नम्बर मतदान केंद्र पर ई वी एम के गड़बडी के कारण लगभग 45 मिनट बाद मतदान कार्य शुरू हो पाया. वही सेंट्रल पब्लिक स्कूल समेंत कई मतदान केंद्र में सुबह के समय में काफी धीमा पोलिंग कार्य होने से आम जनता परेशान रहा था.

वार्ड 31 के मतदान केंद्र में विवाद

वार्ड संख्या 31 के मतदान केंद्र पर सुबह से ही विवाद होते रहा. इसको लेकर बोगस वोट को लेकर वार्ड प्रत्याशी करुण लता मिश्रा द्वारा लिखित रूप से चुनाव पदाधिकारी को शिकायत किया गया है. वहीं, दूसरी तरफ मतदान केंद्र पर किसी बात के विवाद को लेकर पार्षद प्रत्याशी किरण देवी व एक स्थानीय व्यक्ति में मारपीट हुई. इसके बाद माहौल गर्म हो गया. हालांकि पुलिस की सख्ती के बाद मामले का निपटारा किया गया.

डीसी व एसपी ने किया कैंप

कुलुपटांगा मध्य विद्यालय में बराबर विधि व्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो रही थी. इसका मुख्य कारण था कि उक्त विधालय में तीन वार्ड का मतदान केंद्र बनाया गया था. जिसको लेकर भीड़ काफी ज्यादा थी. पार्षद प्रत्याशी ज्ञानवी देवी व मालती देवी के बीच में किसी बात को लेकर जमकर विवाद हुआ था. दोनों में गाली-गलौज तक की नौबत आ गई.

पार्षद प्रत्याशी पर थप्पड़ मारने का आरोप

आदित्यपुर नगर निगम के वार्ड संख्या-30 में सुबह में पार्षद प्रत्याशी सुजाता सिंह के साथ मारपीट की घटना घट गई. सुजाता सिंह के विपक्षी लोगो ने आरोप लगाया कि सुजाता सिंह द्वारा सुबह करीब 9 बजे रिक्शा कॉलोनी के समीप बस्ती में जाकर मतदाताओं को पैसा बांट रही थी. इसे सर्वेश नामक युवक कैमरा में कैद करने लगा. इसके बाद सुजाता सिंह उसे थप्पड़ मार दिया. इसके बाद दोनों के बीच में विवाद हो गया. वहीं, सुजाता सिंह ने आरोप लगाया कि पार्षद अमृता चौधरी द्वारा उक्त बस्ती के लोगों को पैसा देने का प्रयास किया गया जब इसका विरोध किया गया, तो लोगों ने उनके साथ मारपीट की.