गगहा थानेदार ने छोड़ा, एकौना में पकड़े गए चोर

By: Inextlive | Publish Date: Mon 17-Jul-2017 07:40:05
A- A+
गगहा थानेदार ने छोड़ा, एकौना में पकड़े गए चोर

- थानेदार के मैनेजमेंट से पब्लिक में आक्रोश

- गुंडा एक्ट में पांबद हो चुका है चोरी का आरोपी

GORAKHPUR: गगहा के थानेदार को मैनेज कर छूटे चोर को दूसरे दिन देवरिया के एकौना थाना की पुलिस ने चोरी की टेंपो के साथ अरेस्ट किया। मोबाइल चोरी के जिस आरोपी को गगहा थाना की पुलिस ने छोड़ दिया था। उसे जेल भेजने की सूचना मिलने पर लोग थानेदार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठा रहे हैं। लोगों का कहना है कि बदमाशों पर मेहरबान बने एसओ पब्लिक की समस्याओं को दरकिनार कर रहे हैं। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि इस मामले में संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

कई मोबाइल चुराते पकड़ा गया रंगेहाथ

10 जुलाई को गगहा एरिया के अतायर में दो युवकों ने गांव के कई लोगों का मोबाइल चुरा लिया। शक होने पर गांव के लोगों ने युवकों को पकड़ लिया। उनको लेकर गगहा थाना पहुंचे। पूछताछ में दोनों की पहचान भीम और कन्हैया के रूप में हुई। मोबाइल चोरी की तहरीर देने पर पुलिस दोनों को थाने पर बैठाई रही। दो दिनों के बाद शिकायतकर्ताओं को बुलाकर पुलिस ने मोबाइल लौटा दिया। आरोप है कि थानेदार बृजेश यादव को मैनेज कर चोरी के आरोप में पकड़े गए युवक छूट गए.

टेंपो संग एकौना पुलिस ने दबोचा

गगहा थाना से छूटने के दूसरे दिन ही देवरिया जिले के एकौना थाना की पुलिस ने उनको पकड़ लिया। 15 जुलाई को एकौना पुलिस रकहट बंधे पर चेकिंग कर रही थी। तभी टेंपो सवार लोगों को पुलिस ने हाथ दिया। सवार लोगों ने भागने की कोशिश की तो पुलिस ने दबोच लिया। पूछताछ में सामने आया कि वह चोरी का टेंपो चला रहे थे। पुलिस ने दोनों को अरेस्ट करके जेल भेज दिया। इसकी जानकारी अतायर गांव के लोगों को हुई तो लोगों गुस्सा हो गए। पब्लिक का कहना है कि आरोपी भीम साहनी के खिलाफ गुंडा एक्ट की कार्रवाई हो चुकी है। लेकिन पुलिस की मेहरबानी से वह अपने कारनामे करता रहता है।

इस तरह के मामले की जानकारी नहीं थी। चोरी के सामान के साथ रंगेहाथ पकड़े गए व्यक्ति को थाने से कैसे छोड़ा जा सकता है। इस संबंध में जांच पड़ताल की जाएगी।

आदित्य प्रकाश वर्मा, कार्यवाहक एसपी साउथ

पकड़े गए युवकों के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं मिला था। गांव का कोई व्यक्ति दोबारा थाना पर नहीं आया। इसलिए भीम को थाना से छोड़ दिया गया।

बृजेश यादव, एसओ गगहा

inextlive from Gorakhpur News Desk