होनी चाहिए जांच
राणातुंगा का यह आरोप टीम के पूर्व कप्तान कुमार संगाकारा के 2009 में पाकिस्तान दौरे को लेकर दिए गए बयान के बाद आया है। इस दौरे में श्रीलंका की टीम पर आतंकवादी हमला हुआ था। संगकारा ने कहा है कि इस बात की जांच होनी चाहिए कि यह दौरा किसके कहने पर हुआ था। संगाकारा की मांग पर बात करते हुए राणातुंगा ने कहा कि अगर संगकारा पाकिस्तान दौरे को लेकर जांच चाहते हैं तो यह होनी चाहिए। लेकिन मेरा मानना है कि 2011 वर्ल्‍ड कप फाइनल में श्रीलंका के साथ जो हुआ उसकी भी जांच होनी चाहिए। मेरा मानना है कि खेल मंत्री को फिटनेस जैसी समस्याओं को छोड़कर इस मामले पर ध्यान देना चाहिए।

28 साल बाद इंडिया बना था विजेता
राणातुंगा ने बताया कि वल्र्ड कप के इस फाइनल मैच में मैं कमेंट्री पैनल में था। मुझे इस मैच में श्रीलंका का प्रदर्शन देखते हुए बहुत निराशा हुई थी। इस मैच में श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए इंडिया के सामने 274 रनों का लक्ष्य दिया था। जवाब में इंडिया ने ओपनर बैट्समैन गौतम गंभीर (97) और कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 91) की बेहतरीन पारियों की मदद से जीत हासिल की थी और 28 साल बाद वर्ल्‍ड कप पर कब्जा किया था।

सच लाऊंगा सामने
राणातुंगा ने कहा कि मैं नहीं बता सकता कि उस दिन क्या हुआ था, लेकिन मैं किसी दिन सच सामने लेकर आऊंगा। मेरा मानना है कि इस मामले में जांच होनी चाहिए। राणातुंगा अब श्रीलंका सरकार में पेट्रोलियम और नवीकरणीय संसाधन मंत्री हैं। उन्होंने यहां सीलोन पेट्रोलियम निगम के कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में यह बातें कहीं।

श्रीलंका टीम पर हुआ था हमला

2011 वल्र्ड कप में श्रीलंका टीम के कप्तान संगाकारा थे। उन्होंने कहा है कि जब पाकिस्तान में सुरक्षा अच्छी नहीं थी, तो वहां टीम को क्यों भेजा गया था। मार्च 2009 में पाकिस्तान दौरे पर लाहौर में श्रीलंका की बस पर आतंकवादी हमला हुआ था। इस हमले में छह पाकिस्तानी पुलिसकर्मी मारे गए थे। श्रीलंका के कुछ खिलाड़ी चोटिल हो गए थे।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

Cricket News inextlive from Cricket News Desk