योगी धर्माचार्य, पुतला दहन धर्म विरूद्ध

By: Inextlive | Publish Date: Tue 20-Jun-2017 07:41:10
A- A+
योगी धर्माचार्य, पुतला दहन धर्म विरूद्ध

एयू के चीफ प्रॉक्टर ने छात्रसंघ के निलंबित उपाध्यक्ष का 15 अगस्त तक कैंपस में प्रवेश किया प्रतिबंधित

ALLAHABAD: हाल ही में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ उपाध्यक्ष अदील हमजा को निलंबित किया गया था। अब उनका कैंपस में प्रवेश भी बैन कर दिया गया है। इसके लिए चीफ प्रॉक्टर की ओर से जारी नोटिस को लेकर मंडे को कैम्पस में जमकर हंगामा हुआ। प्रकरण 11 जून को सीएम योगी आदित्यनाथ के पुतला दहन से जुड़ा हुआ है। 14 जून को चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर आरएस दुबे (वरिष्ठ शिक्षक संस्कृत विभाग) ने अदील हमजा पुत्र मो। एम। सिद्दकी निवासी 49/बी स्टैनली रोड इलाहाबाद को नोटिस भेजा। मंडे को कुलपति को ज्ञापन देने जा रहे छात्रों का चीफ प्रॉक्टर से सामना हुआ तो वे भड़क गए। छात्रों का कहना है नोटिस की भाषा आपत्तिजनक है। इसमें एक लाइन है कि योगी धर्माचार्य हैं और उनका पुतला दहन अधार्मिक कृत्य के साथ अपराध की श्रेणी में आता है। इससे लगता है कि अदील को धार्मिक रूप से टार्गेट करने का प्रयास किया जा रहा है.अदील को 25 जून तक जवाब देने का मौका देते हुए 15 अगस्त तक कैम्पस प्रवेश प्रतिबन्धित किया गया है। अदील अब मानहानि का केस करने की बात कर रहे हैं.

छात्र बात का बतंगड़ बना रहे हैं। मैने सीएम के विरोध को लेकर जो लिखा है, उसका अर्थ दूसरी तरह से निकालना गलत है।

प्रो। आरएस दुबे, चीफ प्रॉक्टर

सीएम को खुश करने के चक्कर में ये कुछ भी कर जाएंगे। सीएम का कोई धर्म नहीं होता, वह जनता का नेता होता है। छात्र अपनी बात को लेकर उनका विरोध कर सकते हैं.

अदील हमजा, निलंबित छात्रसंघ उपाध्यक्ष

inextlive from Allahabad News Desk