खतरनाक है ये टेपवर्म
पत्‍ता गोभी के सबसे अंदरूनी पत्‍तों में कहीं छिपा होता है ये टेपवर्म। बेहद हल्‍के रंग का ये टेपवर्म सब्‍जी को काटते या धोते समय आसानी से दिखाई नहीं देता। जैसे के तैसे पत्‍तों में लिपटकर ये सब्‍जी में पक जाता है और खाने के साथ पेट में चले जाते हैं। पेट में जाने के बाद ये कैसे पहुंचाते हैं नुकसान, आइए आगे जानें।

आंतों में चिपककर ऐसे पहुंचाते हैं नुकसान
खाने के साथ पेट में पहुंचकर ये टेपवर्म आंतों में जाकर चिपक जाते हैं। आंतों में चिपकर ये यहां अंडे देते हैं और ये अंडे शरीर को अलग-अलग तरह से नुकसान पहुंचाते हैं। वैसे बता दें कि ये टेपवर्म सिर्फ पत्‍ता गोभी में ही नहीं मिलते। इसके अलावा और भी बहुत सी चीजों में ये खतरनाक कीड़ा पाया जाता है। जैसे ब्रोकली, पोर्क मीट आदि। ये कीड़ा किस तरह से पहुंचा सकता है आपको नुकसान आइए देखें।

पढ़ें इसे भी : 11 स्‍वादिष्‍ट भोजन जो आपके दिमाग की बत्‍ती जला दें!

खूब खाइए लेकिन जरा सी लापरवाही में जान भी ले सकता है पत्‍ता गोभी

हो सकती है खून की कमी  
आंतों में चिपककर ये कीड़ा आपके शरीर में धीरे-धीरे खून चूसना शुरू करता है। शुरुआत में आपको मालूम नहीं पड़ेगा और बाद में एकदम से आपके शरीर में खून की कमी हो जाएगी।

लीवर और किडनी पर डाल सकता है बुरा असर
ये कीड़ा आपके लीवर और किडनी के लिए भी बेहद घातक साबित हो सकता है। इससे किडनी और लीवर में सूजन आ सकती है और घातक घाव भी हो सकते हैं।

पढ़ें इसे भी : शाकाहारी हैं तो अपने भोजन में जरूर शामिल करें प्रोटीन युक्‍त ये पांच फूड

पड़ सकते हैं मिर्गी के दौरे भी
ये कीड़ा आपकी आंतों में चिपककर अंडे देता है और फिर इसके अंडे आपके दिमाग तक पहुंच सकते हैं। यहां पहुंचकर ये आपके दिमाग की नसों को बहुत नुकसान पहुंचाता है। इससे मिर्गी के दौरे पड़ने की संभावना ज्‍यादा हो जाती है।

पढ़ें इसे भी : खाएं ये चीजें और हमेशा रहिए जवान

ऐसे कर सकते हैं इस कीड़े से बचाव
पत्‍ता गोभी की सब्‍जी को बनाने से पहले कुछ अहतियात बरत कर आप इसके कीड़े से होने वाले घातक परिणामों से बच सकते हैं।

- मसलन सब्‍जी बनाने से पहले इसको गर्म पानी में एक बार धो लें। फिर धोने के बाद इसे काटकर एक बार फिर से गर्म पानी में इसको अच्‍छी तरह से धो लें।

खूब खाइए लेकिन जरा सी लापरवाही में जान भी ले सकता है पत्‍ता गोभी

- स्‍वाद के लिए अक्‍सर लोग पत्‍ता गोभी को अधपका बनाते हैं। ऐसा न करें। जब भी इसको बनाएं तो पूरी तरह से पका कर बनाएं। पूरी तरह से पकने के बाद ये बहुत हद तक आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए सुरक्षित हो जाता है।

Food News inextlive from Food Desk

Food News inextlive from Food News Desk