-पुलिस ने चार घंटे में मासूम को सकुशल बरामद किया, पुलिस का एक्शन देख बस में बैठाकर भागे बदमाश

-लाजपत नगर में स्कूल से लौटते समय बाइक सवार दो बदमाशों ने नाम पूछकर गन प्वाइंट पर उठाया था

द्मड्डठ्ठश्चह्वह्म@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

यन्हृक्कक्त्र : शहर के पॉश एरिया लाजपत नगर में मंडे को दिन दहाड़े बाइकसवार दो बदमाशों ने बिजनेसमैन के 8 साल के बच्चे को गन प्वाइंट पर किडनैप कर लिया. कुछ ही देर बाद बदमाशों ने पिता के मोबाइल पर फोन कर पांच करोड़ की फिरौती मांगी. सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. एसएसपी ने वारदात का पता चलते ही बिना किसी देरी के मासूम की सकुशल बरामदगी के लिए क्राइम ब्रांच के साथ ही तेज तर्रार अफसरों की टीम को लगा दिया. मामले में एसटीएफ को भी एक्टिव कर दिया गया. पुलिस के क्विक एक्शन का असर भी दिखा. पता चला कि बदमाश बच्चे को लेकर शहर की सीमा से बाहर निकल गए हैं और हाईवे के रास्ते इलाहाबाद की ओर जा रहे हैं. बदमाशों का एक साथी पुलिस के हर मूवमेंट पर नजर रखने के साथ इसकी जानकारी भी किडनैपर्स को दे रहा था. पुलिस का एक्शन देख जब किडनैपर्स को लगा कि वे पकड़े जा सकते है तो वे बच्चे को एक बस में बैठाकर भाग गए. पुलिस को जैसे ही मासूम के मिलने का पता चला. एक टीम उसको लाने के लिए पिता के साथ वहां चली गई. देर शाम को कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद पुलिस बच्चे को सकुशल शहर ले आई.

----------------

तुम में से नंदू कौन है?

काकादेव रानीगंज निवासी मनजीत शुक्ला हॉस्टल संचालक हैं. परिवार में पत्नी प्रतिभा, दो बेटी और सात का बेटा आदित्य उर्फ नंदू है. आदित्य जवाहर नगर स्थित ओंमकार सरस्वती स्कूल में क्लास 3 का छात्र है. उसको सीसामऊ निवासी ई-रिक्शा चालक अशोक स्कूल ले जाता है. सुबह उसको अशोक स्कूल ले जाने के लिए ले गया था. उसके साथ ई-रिक्शा में चचेरा भाई अक्षत, रुद्राक्ष और साथी छात्र शाश्वत थे. वे लाजपत नगर में गुरुद्वारा के पास पहुंचे थे कि बाइक सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने ई-रिक्शा को रोककर बच्चों से पूछा कि तुम लोगों में नंदू कौन है? नंदू आदित्य का निक नेम है. जैसे ही आदित्य ने बताया कि वह नंदू है. बदमाश उसको ई-रिक्शा से उठाकर ले जाने लगे. चालक अशोक और साथी छात्रों ने बदमाशों का विरोध किया तो एक बदमाश ने चालक और छात्रों पर पिस्टल तान दी. जिसे देख वे सहम गए और बदमाश आदित्य को लेकर भाग गए.

---------------