- कहा, फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार थी, प्रपोजल तैयार करने में लग रहा है समय

<- कहा, फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार थी, प्रपोजल तैयार करने में लग रहा है समय

BAREILLY:

BAREILLY:

कैंटोनमेंट बोर्ड को स्मार्ट बनाने में विभागीय कार्य प्रणाली की सुस्ती भारी पड़ रही है. कैंट बोर्ड का स्मार्ट सिटी में चयन के लिए रक्षा मंत्रालय ने फिजिबिलिटी रिपोर्ट मांगी थी, जिसे कैंटोनमेंट बोर्ड अभी तक भेज नहीं सका. जबकि इसे क्0 नवंबर तक मंत्रालय को भेज देनी चाहिए थी. अब मंत्रालय ने रिमाइंडर भेजकर फिजिबिलिटी रिपोर्ट समेत प्रपोजल भी भेजने के आदेश दिए हैं. ताकि आगे की कार्यवाही की जा सके.

मार्च में भेजेंगे प्रपोजल

रक्षा मंत्रालय के रिमाइंडर में फिजिबिलिटी रिपोर्ट के साथ ही संबंधित कार्य को कराए जाने के बाद बजट समेत पूरा प्रपोजल तैयार करने के निर्देश दिए हैं. निर्देश मिलने के बाद कैंट बोर्ड के अधिकारी तेजी से प्रपोजल तैयार करने में जुट गए हैं. अधिकारियों ने बताया कि फिजिबिलिटी बन चुकी है. इसके आधार पर प्रपोजल तैयार कि जा रहा है. जिसमें समय लगना लाजिमी है. ऐसे में रिपोर्ट मार्च के लास्ट वीक तक भेजे जाने की सूचना बोर्ड ने मंत्रालय को दे दी है.

यह था पूरा मामला

कैंट बोर्ड को स्मार्ट बनाने के दूसरा चरण सितंबर ख्0क्म् में शुरू हुआ. जिसके तहत कैंट बोर्ड को मंत्रालय ने पत्र लिखकर फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार करने को कहा था. इसमें सीवेज, ड्रेनेज, सेफ्टी, वाटर, सेनिटेशन, कल्चर, इकोनॉमी, पॉपुलेशन, सेक्स रेशियो, एम्प्लॉयमेंट, एजुकेशन व अन्य बिन्दुओं पर रिपोर्ट बनानी थी. जनवरी में लखनऊ कैंट बोर्ड हेडक्वार्टर से प्रधान निदेशक ने भी जल्द रिपोर्ट सबमिट करने को कहा था. पर अब रिमाइंड में कराए जाने वाले कामों का बजट बनाकर प्रपोजल भेजने को लिखा है.

फिजिबिलिटी रिपोर्ट के साथ ही अब प्रपोजल भी मांगा है. जिसे तैयार करने में थोड़ा समय लगेगा. प्रपोजल जल्द भेज दिया जाएगा.

के. लौवुम, सीईओ