न होगी एक साथ परीक्षा और न ही चलेगी बहानेबाजी

By: Inextlive | Publish Date: Thu 07-Dec-2017 04:01:19
A- A+
न होगी एक साथ परीक्षा और न ही चलेगी बहानेबाजी

- यूपी बोर्ड परीक्षा में बदला होगा कार्यक्रम, एक साथ नहीं होगी 10वीं और 12वीं की परीक्षा

GORAKHPUR: यूपी बोर्ड परीक्षाओं की धूमिल छवि सुधारने के लिए माध्यमिक शिक्षा परिषद ने अभी से कवायद शुरू कर दी है। बोर्ड से मिली जानकारी के मुताबिक, ऑनलाइन परीक्षा केंद्रों के निर्धारण के साथ ही इस बार बोर्ड परीक्षा के कार्यक्रम में भी पूरी तरह बदलाव कर दिया गया है। जिसके तहत बहानेबाज स्कूल व एग्जाम विजिलेटर्स किसी प्रकार का गोलमाल या फिर बहाना नहीं कर सकेंगे।

एग्जाम ड्यूटी में कम होते हैं विजिलेटर्स प्रत्येक वर्ष 10वीं व 12वीं की यूपी बोर्ड परीक्षा का कार्यक्रम एक साथ तय होता है। जिसके चलते दोनों कक्षाओं के मु2य विषयों अंग्रेजी, हिंदी, गणित, विज्ञान, के परीक्षार्थी एक ही पाली में परीक्षा देते हैं। इन विषयों के परीक्षार्थी ज्यादा होते हैं, जिसके चलते नकल होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। वहीं वैकल्पिक विषय जैसे संगीत, कला, गृहविज्ञान, वादन, गायन की परीक्षा एक साथ आयोजित होने से एग्जाम विजिलेटर्स कम सं2या में ड्यूटी देने पहुंचते हैं। जबकि इस बार तय हुए कार्यक्रम में इस बात का विशेष ध्यान रखा गया है। 10वीं की मु2य परीक्षा के साथ उसी पाली में 12वीं के वैकल्पिक विषय की परीक्षा रखी गई है।

1या कहते हैं स्कूल वाले

राजकीय जुबिली इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल नंद लाल यादव बताते हैं कि परीक्षा कार्यक्रम काफी अच्छा है। हर बार कार्यक्रम काफी है1िटक होता है, लेकिन इस बार सोच- समझकर कार्यक्रम तय किया गया है। परीक्षा केंद्रों को भी राहत मिलेगी। वहीं एडी ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज की प्रिंसिपल रेमी यादव बताती हैं कि परीक्षा कार्यक्रम में इस बार ऐसा बदलाव देखा गया है। एक तो इससे नकल रोकने में आसानी होगी। दूसरे सेंटर्स के लिए भी आसानी होगी।

फै1ट फिगर

10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा शुरू - 6 फरवरी 2018

10वीं व 12वीं बोर्ड प्रै1िटकल - 30 दिसंबर 2017 से 13 जनवरी 2018

पिछली बार के आंकड़े

10वीं में परीक्षार्थियों की सं2या - 93,233

12वीं परीक्षार्थियों की सं2या - 69,223

साल 2017- 18

10वीं में परीक्षार्थियों की सं2या - 93,483

12वीं में परीक्षार्थियों की सं2या - 76,574

10वीं व 12वीं में कुल परीक्षार्थियों की सं2या - 1,70,057

नोट - पिछले साल की अपेक्षा इस बार 7,601 परीक्षार्थी ज्यादा हैं।

परीक्षा केंद्रों की सं2या - 209

पिछली बार परीक्षा केंद्रों की सं2या - 248

वर्जन

10वीं व 12वीं का बार्ड एग्जाम कार्यक्रम इस बार तय रणनीति से निर्धारित किया गया है। सेंटर बनने वाले स्कूल संचालक हर बार शिकायत करते हैं कि मु2य परीक्षाओं में बैठने की क्षमता से अधिक स्टूडेंट्स भेज दिए जाते हैं। जबकि इस बार ऐसा नहीं होगा।

- ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया, डीआईओएस

inextlive from Gorakhpur News Desk