एडमिशन को स्टूडेंट्स व पेरेंट्स लड़े जंग

By: Inextlive | Publish Date: Sat 20-May-2017 07:41:29
A- A+
एडमिशन को स्टूडेंट्स व पेरेंट्स लड़े जंग

- - CHS एंट्रेंस के दोनों शिफ्ट में शामिल हुए लगभग 50 हजार परीक्षार्थी

- सिटी के लॉज व सस्ते होटल पहले ही हो चुके थे बुक

VARANASI

सीएचएस, बीएचयू के क्लास नाइंथ व क्क् बायो में एडमिशन के लिए यूनिवर्सिटी के ख्ब् सेंटर्स सहित सिटी के म्0 सेंटर्स पर दो शिफ्ट में एंट्रेंस एग्जाम आयोजित हुआ। एग्जाम के चलते सिटी के अधिकांश होटल व लॉज एक दिन पहले ही बुक थे। वहीं होटल्स में जगह नहीं मिलने से सैकड़ों पेरेंट्स बच्चों संग बीएचयू कैंपस स्थित हॉस्पिटल, पार्क आदि क्षेत्र में रात गुजारने को मजबूर रहे।

वसूला सौ रुपया

जबरदस्त गर्मी व जाम को देखते हुए ऑटो ड्राइवर ने परीक्षार्थियों व पेरेंट्स की मजबूरी का फायदा उठाते हुए आर्थिक दोहन किया। ऑटो ड्राइवर्स ने लंका से कैंट तक का किराया सौ रुपये तक वसूला। कुछ परिजन रुपये देकर डेस्टिनेशन को रवाना हुए, तो कुछ मजबूरी में लंका, नरिया, सुंदरपुर आदि क्षेत्रों से कैंट व सिटी रेलवे स्टेशन तक पैदल ही आए।

पहले चलती थीं बसेज

पहले बीएचयू व जिला प्रशासन आपस में सामंजस्य बैठाकर परीक्षा छूटने के समय सिटी बसों का परिचालन कराते थे। इससे अभिभावकों व परीक्षार्थियों को काफी सहूलियत रहती थी, वहीं ऑटो चालकों की मनमानी भी रूक जाती थी।

पेरेंट्स ढूंढते रहे छांव

परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए बच्चों को जाम के कारण काफी संघर्ष करना पड़ा। वहीं बच्चों के संग आए परिजन बाहर ही चिलचिलाती धूप में बच्चों का इंतजार करते रहे। परिजनों के लिए बीएचयू प्रशासन की ओर से कोई खास व्यवस्था नहीं थी अव्यवस्था के बीच परिजनों ने धैर्य के साथ घंटों बच्चों का इंतजार किया।

सिटी में लगा जबरदस्त जाम

परीक्षा के लिए बीएचयू सहित नरिया, कमच्छा, गुरुबाग, सुंदरपुर, नई सड़क, भेलूपुर, पांडेय हवेली, लहुराबीर, कबीरचौरा आदि शहर के सघन क्षेत्रों में केंद्र बनाए गए थे। परीक्षा शुरू होने से पहले लगे जाम के कारण कई परीक्षार्थी जहां देर से केंद्रो पर पहुंचे। वहीं परीक्षा छूटने के बाद समूचा शहर घंटों जाम की चपेट में रहा।

inextlive from Varanasi News Desk