छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: साकची पुलिस ने लोडेड पिस्टल और कारतूस के साथ एक क्रिमिनल को दबोचा है. उसका नाम आलोक रजक उर्फ आलू बताया जा रहा है, जो मानगो गुरुद्वारा बस्ती स्थित धोबी लाइन का निवासी है. पिस्टल का भय दिखाकर युवक छोटे-मोटे व्यवसायियों से रंगदारी वसूल करता था. पुलिस के मुताबिक आलोक रजक पहले भी चोरी-लूट जैसे कई आपराधिक मामलों में जेल जा चुका है. सिटी डीएसपी अनिमेश नैथानी ने साकची थाना में पत्रकारों को बताया पुलिस को गोपनीय सूचना मिली थी एक क्रिमिनल साकची डायमंड रोड में लोडेड पिस्टल के साथ घूम रहा है. सूचना पर सब इंस्पेक्टर शिवबिहारी तिवारी के नेतृत्व में पुलिस बल को सत्यापन के लिए भेजा गया. पुलिस को देखकर आलोक राज भागने लगा. बाद में पुलिस ने खदेड़ कर उसे दबोच लिया.

दिया था कई कांडों को अंजाम

इसके बाद शारीरिक जांच में उसके पास से सिस्टल और कारतूस बरामद किया गया. डीएसपी ने बताया कि आरोपी की संलिप्तता 28 जनवरी को काशीडीह स्थित चंद्रबली उद्यान के पास से गैस सिलेंडर की आपूर्ति करने वाले स्टाफ राहुल से पिस्तौल का भय दिखा 2 हजार रुपए लूट लेने और फाय¨रग किए जाने के मामले में थी. घटना की प्राथमिकी राहुल के मालिक महेंद्र गुप्ता ने लूट में शामिल क्रिमिनल राहुल और उसके सहयोगी के खिलाफ दर्ज कराई थी. राहुल को पुलिस ने दूसरे दिन ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. उसने पूछताछ में फाय¨रग और लूट में आलोक रजक की संलिप्तता की जानकारी दी थी. इसके बाद पुलिस अलोक की तलाश कर रही थी. आरोपी के खिलाफ अवैध हथियार रखने का मामला दर्ज किया गया है.