Varanasi: अगर आप रात के वक्त अकेले ऑटो का सफर कर रहे हैं तो अलर्ट हो जाये. क्योंकि हो सकता है आपका ये निर्णय आपके लिए मुसीबत बन जाये. दरअसल बुधवार को क्राइम ब्रांच ने छह सितम्बर को बाबतपुर एयरपोर्ट से ऑटो से आ रहे लंका निवासी राजेन्द्र प्रसाद पाल की हत्या का खुलासा किया. राजेन्द्र की लाश सात सितम्बर को रोहनिया क्षेत्र में मिली थी और इस सबंध में फूलपुर थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज था. पुलिस ने इस मामले में ऑटो चालक को गिरफ्तार किया है जबकि उसका एक साथी फरार है. पुलिस ने मृतक से लूटा गया माल भी बरामद किया है.

दिया नशे का ओवरडोज

क्राइम ब्रांच प्रभारी ओम नारायण सिंह ने राजातालाब निवासी अमित पांडेय उर्फ दीपू को सनुगहां मोड़ फूलपुर के पास से गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में आरोपी ने धोखे से नशीला पदार्थ पिलाकर लूटने की बात स्वीकार की. इस बारे में एसएसपी आरके भारद्वाज ने बताया कि अमित पाण्डेय ऑटो चालक है और ऑटो में राजेन्द्र को बैठाने के बाद जब उसे जानकारी हुई कि वो सऊदी से आया है तो उसने अपने दोस्त वीरू उर्फ रवि पटेल को रास्ते में बैठाया और राजेन्द्र को नशीला पदार्थ शराब में मिलाकर पीलाने के बाद लूटने के बाद हत्या कररोहनिया के पास फेंककर भाग निकले. अमित के साथ घटना में शामिल एक अन्य बदमाश वीरू उर्फ रवि पटेल फरार है. पुलिस ने अमित के कब्जे से मृतक राजेन्द्र पाल का ट्रॉली बैग, पर्स, चश्मा, एयर टिकट आदि सामान के अलावा घटना में प्रयुक्त ऑटो और तीन मोबाइल भी बरामद किया है. इस खुलासे के बाद एसएसपी रामकृष्ण भारद्वाज ने क्राइम ब्रांच की इस सफलता पर 5000 रुपये का पुरस्कार भी दिया है.