अलर्ट! मोबाइल सेटिंग से की छेड़छाड़ तो होगी जेल

By: Shweta Mishra | Publish Date: Thu 03-Aug-2017 11:42:03
A- A+
अलर्ट! मोबाइल सेटिंग से की छेड़छाड़ तो होगी जेल
मोबाइल की सेट‍िंग से छेड़छाड़ करने वाले लोगों के लि‍ए एक बड़ी खबर है। अक्‍सर नए-नए फीचर को ट्राई करने के चक्‍कर में की जाने वाली सेट‍िंग्‍स छेड़छाड़ से अब मोबाइल यूजर्स मुसीबत में आ सकते हैं। ऐसे में अनजाने में भी उन्‍हें एक सेट‍िंग्‍स को ब‍िल्‍कुल नहीं छूना है, वरना उन्‍हें जेल भी हो सकती है। आइए जानें क्‍या है वो सेट‍िंग्‍स...

यही मोबाइल का मुख्‍य आधार
जी हां नए-नए फीचर को चेक करने के ल‍िए मोबाइल की सेट‍िंग्‍स में छेड़छाड़ करना एक सामान्‍य प्रक्रिया है। इससे वे यूजर्स अपने मोबाइल के फीचर को चेक करते हैं कि‍ कौन सा फीचर कैसे काम कर रहा है। हालांक‍ि इस दौरान मोबाइल यूजर्स आईएमईआई नंबर नहीं छूना चाह‍िए। आईएमईआई यानी इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी नंबर हर मोबाइल में होता है। एक तरह से यही मोबाइल का मुख्‍य आधार होता है। आईएमईआई की मदद से चोरी हुआ या फ‍िर खोया हुआ मोबाइल दुन‍िया के क‍िसी भी कोने से आसानी से खोजा जा सकता है।

mobile settings, mobile settings tamper, Do not tamper with mobile, mobile tamper 3 years jail, IMEI, International Mobile Equipment Identity

फर्जी आईएमईआई नंबर के मोबाइल
वहीं आजकल कुछ लोग अनजाने में तो कुछ लोग जानबूझकर अपने आईएमईआई नंबर को बदल देते है। जबकि‍ ऐसा करना उन्‍हें भारी मुसीबत में डाल सकता है क्‍योंक‍ि अब टेलीकॉम मंत्रालय आईएमईआई नंबर की छेड़छाड़ रोकने के ल‍िए एक नया न‍ियम बना रहा है। हाल ही में टेलीकॉम इंफोर्समेंट र‍िसोर्स एंड मॉनि‍टर‍िंग ने एक र‍िपोर्ट तैयार की है। जि‍समें साफ हुआ है क‍ि देश में फर्जी आईएमईआई नंबर के मोबाइल बढ़ चुके हैं। वर्तमान में करीब 18 हजार मोबाइल ऐसे हैं जि‍नका आईएमईआई नंबर एक ही है।

mobile settings, mobile settings tamper, Do not tamper with mobile, mobile tamper 3 years jail, IMEI, International Mobile Equipment Identity

रोकने का प्रयास क‍िया जाएगा
ऐसे में अब इन्‍हें रोकने का प्रयास क‍िया जाएगा। वहीं टेलीकॉम मंत्रालय इससे पहले मोबाइल कंपन‍ियों को आदेश दे चुका है क‍ि वे भी ब‍िना आईएमईआई नंबर के मोबाइल न बनाएं। ऐसे में अब जो लोग मोबाइल में द‍िए आईएमईआई नंबर को बदलेंगे वो मुसीबत में आ सकते हैं। यहां तक की उन्‍हें तीन साल की जेल भी हो सकती है। बतादें कि‍ देश की सुरक्षा एजेंसियां भी क‍िसी भी नंबर की कॉल आद‍ि को ट्रैक करने के ल‍िए इस आईएमईआई नंबर की मदद लेती हैं। इससे वे क‍िसी भी नंबर को आसानी से ट्रैक कर लेती हैं।

जियो पर धीमी स्‍पीड से हैं परेशान तो ट्राई करें ये 7 एप, तेजी से डाउनलोड होगी मूवी

Technology News inextlive from Technology News Desk

खबरें फटाफट