delete
You are here : TrendingInteresting News

घर के बाहर जूते-चप्पल उतारने के पीछे है सेहत से जुड़ा ये साइंटिफिक रीजन

By: Inextlive | Publish Date: Thu 01-Dec-2016 10:32:04   |  Modified Date: Thu 01-Dec-2016 10:42:29
- +
घर के बाहर जूते-चप्पल उतारने के पीछे है सेहत से जुड़ा ये साइंटिफिक रीजन
घर से बाहर चप्‍पल जूते उतारने का रिवाज सामान्‍य सा है। ऐसे में अगर कोई नया शख्‍स घर के अंदर चप्‍पल जूते पहनकर आ जाता है कि तो उसे लोग तरह-तरह की बातें बोलते हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि क्‍या कभी आपने ये सोचा है कि घर के अंदर चप्‍पल जूते क्‍यों नही पहन कर आए जाते हैं। इसके पीछे की वजह क्‍या है। कोई बात नहीं हम बताते हैं इसके पीछे एक बड़ा साइंटिफिक रीजन है। जिसे लोगों ने धर्म और संस्‍कृति से जोड़ लिया है...

रोचक बातें सामने आईं
हाल ही में यूनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना की एक स्टडी ने चप्‍पल जूतों पर शोध किया है। जिसमें चप्‍पल जूते घर के अंदर क्‍यों नहीं लाए जाते हैं इसको लेकर कई रोचक बातें सामने आई हैं। वैज्ञानिक कारणों के मुताबिक हमारे चप्‍पल जूतों में बड़ी संख्‍या में बैक्‍टीरिया पाए जाते हैं। जो कि घर के अंदर प्रवेश करने पर सेहत और खाने पीने की चीजों पर हमला करते हैं।



7 तह के बैक्‍टीरिया
जूतों-चप्पलों में 7 अलग-अलग तरह के 27% बैक्टीरिया पाए जाते हैं। इतना ही नहीं हर चप्‍पल जूते में करीब 421,000 बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। ऐसे में जब यह घर के अंदर आते हैं तो 90% खाने और पानी में घुलमिल जाते हैं। इसका शरीर पर काफी असर पड़ता है। लोगों में बीमारियां फैलने लगती हैं। ऐसे में इन्‍हें घर से बाहर उतारने में ही सबकी भलाई होती है।



रीति और कल्‍चर से जुड़ा
इस संबंध में यूनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना माइक्रो बायोलॉजिस्ट केली रेनॉल्‍ड्स का कहना है कि सड़कों पर बेहद गंदगी होती है। इसके अलावा पब्लिक टॉयलेट्स में तो प्रति स्क्वायर इंच के हिसाब से 2 मिलियन बैक्टीरिया पाए जाते हैं। इसीलिए लोगों ने इस नियम को रीति और कल्‍चर से जोड़ लिया। जिससे बड़ी संख्‍या में में लोग इसका पालन करते हैं। यह काफी अच्‍छा भी है।

 

Interesting News inextlive from Interesting News Desk

 

Webtitle : Do You Know Why Remove Your Shoes Inside Arizona Study

खबरें फटाफट