HARIDWAR: पुलिस ने दोहरे हत्याकांड से पर्दा उठा दिया है. पुलिस ने कनखल में बाप-बेटे के हत्याकांड में पुलिस ने उनके रिश्तेदार हत्यारोपी और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का कहना है आपसी रंजिश में रिश्तेदार ने हत्याकांड को अंजाम दिया था.

घर से बरामद हुए थे शव

बुधवार को एसपी सिटी ममता वोहरा ने कनखल थाने में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि जगजीतपुर की शांतिपुरम कॉलोनी में रहने वाले रिटायर्ड रेलकर्मी श्याम लाल व उनके बेटे भरत कुकरेजा के शव 15 अक्टूबर को उनके घर से बरामद हुए थे. दोनों की धारदार हथियार से हत्या की गई थी. भरत का उसकी पत्नी से मनमुटाव चल रहा था और वह अपने मायके में रह ही थी. घर पर बाप बेटे अकेले रहते थे, इसलिए पुलिस के शक की सुई पहले दिन से रिश्तेदारों और करीबियों पर टिकी हुई थी.

हत्या की योजना बनाई

एसपी सिटी ममता ने बताया कि हत्यारोपी ज्वालापुर गुघाल रोड निवासी अभिषेक चौधरी पुत्र सतेंद्र चौधरी और जमालपुर कलां निवासी आकाश चौहान को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि अभिषेक का बड़ा भाई गौतम चौधरी और भरत कुकरेजा आपस में साढू थे. भरत को शक था कि उसकी पत्नी के अपने जीजा यानि गौतम से अवैध संबंध हैं. शक के चलते उसने एक सितंबर 2017 को भेल सेक्टर चार में गौतम को कार से टक्कर मारकर उसकी हत्या करने का प्रयास किया था. हादसे में गौतम गंभीर रूप से घायल हुआ था और उसका एक पैर भी खराब हो गया था. आपरेशन व इलाज में लाखों रुपये खर्च होने के चलते उसका घर बिक गया और नौकरी भी छूट गई. अभिषेक इस वजह से भरत से रंजिश रखने लगा और अपने दोस्त आकाश चौहान के साथ मिलकर उसकी हत्या की योजना बनाई और इसके बाद उनकी हत्या कर दी.

Crime News inextlive from Crime News Desk