GORAKHPUR: कचहरी से घर लौट रहे बाइक सवार बाप-बेटे की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी. घटना मंगलवार शाम झंगहा एरिया के गजाईकोल के पास हुई. डबल मर्डर से आक्रोशित लोगों ने जमकर बवाल काटा. घटना स्थल पर पुलिस के देरी से पहुंचने पर गुस्साए लोगों ने पुलिस जीप को आग लगा दी. पब्लिक के पथराव करने पर पुलिस ने लाठी चलाकर भीड़ को काबू किया. हालात बिगड़ने की सूचना पर एसएसपी शलभ माथुर भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे. पब्लिक के गुस्से को देखते हुए गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. एसएसपी ने कहा कि मामले की जांच चल रही है. रंजिश में हत्या की बात सामने अा रही है.

ओवरटेक कर दाग दी गोली

सुगहा निवासी जयहिंद अपने बेटे नागेंद्र यादव संग मंगलवार को हत्या की तारीख देखने गोरखपुर आए थे. शाम करीब चार बजे बाप-बेटे बाइक से घर लौट रहे थे. नागेंद्र बाइक चलाते हुए गजाईकोल में पुलिया के पास पहुंचा. तभी पीछे से आए बुलेट सवार दो लोगों ने ओवरटेक किया. पीछे बैठे बदमाश ने तमंचे से जयहिंद के सिर में गोली दाग दी. फायरिंग से बेकाबू होकर बाइक गिर पड़ी. वह कुछ समझ पाता इसके पहले बदमाशों ने नागेंद्र के सीने में गोली दाग दी. ताबड़तोड़ गोलियां दागकर बुलेट सवार बदमाश फरार हो गए. फायरिंग सुनकर आसपास की पब्लिक जमा हो गई. गोली लगने से तड़प रहे बाप-बेटे को अस्पताल ले जाने का इंतजाम लोग कर पाते इसके पहले ही दोनों की मौत हो गई. किसी ने घटना की सूचना पुलिस को दी.

देर से पहुंची पुलिस, भड़का गुस्सा

डबल मर्डर की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची. इसके पहले घटनास्थल पर लोकल पब्लिक की भीड़ बढ़ती चली गई. झंगहा थाना की पुलिस के एक घंटे देरी से पहुंचने का आरोप लगाकर लोगों ने सड़क जाम कर दी. पब्लिक के प्रदर्शन करने से अतिरिक्त फोर्स की डिमांड की गई. आसपास के तीन थानों की फोर्स भी बुला ली गई. लोगों ने डीएम और एसएसपी को मौके पर बुलाने की मांग रखी. बवाल बढ़ता देख एसएसपी भारी पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे. आरोप है कि एसएसपी को देखते ही भड़के लोगों ने पथराव शुरू कर दिया. पब्लिक को काबू करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज कर खदेड़ा. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दाग गए. बताया जाता है कि घटना की सूचना पर नागेंद्र की पत्नी अनीता पहुंची थी. पति की डेडबॉडी के पास खड़ी होकर वह तत्काल हत्यारों को अरेस्ट करने की मांग कर रही थी. हाथ में डंडा लेकर वह पति की डेडबॉडी को उठाने का विरोध जताती रही.

दो साल पहले हो चुका डबल मर्डर

बाइक सवार बाप-बेटे की हत्या से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. लोगों ने पुलिस को बताया कि भूमि विवाद को लेकर मर्डर हुआ है. इस विवाद में दो साल पूर्व भी इनके परिवार के दो लोगों की गोली मारकर हत्या की जा चुकी है. जयहिंद के बेटे कौशल यादव और उसके बेटे बलवंत की वर्ष 2016 में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में एक अभियुक्त अभी तक फरार है. जबकि, जमानत पर जेल से छूटे अन्य आरोपी रोजाना जानमाल की धमकी दे रहे थे. शिकायत करने पर लोकल पुलिस कार्रवाई स कतरा रही थी. सीनियर अफसरों के सामने लोगों ने आरोप लगाया कि शुरू से ही पुलिस ने मामले में लापरवाही दिखाई. उधर घटना की जानकारी पाकर मौके पर जा रहीं जनप्रतिनिधि को भी लोगों ने खरीखोटी सुनाई.

वर्जन

डबल मर्डर की जांच पड़ताल की जा रही है. गांव में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. अभियुक्तों की तलाश में पुलिस की टीमें लगा दी गई हैं. जल्द ही आरोपियों को अरेस्ट कर लिया जाएगा.

- शलभ माथुर, एसएसपी

Crime News inextlive from Crime News Desk