छा गया इको फ्रेंडली कालीन, जो पानी की बर्बादी रोकने में है लाजवाब

By: Inextlive | Publish Date: Wed 11-Oct-2017 04:10:32   |  Modified Date: Wed 11-Oct-2017 04:13:03
A- A+
छा गया इको फ्रेंडली कालीन, जो पानी की बर्बादी रोकने में है लाजवाब
-सीईपीसी की तरफ से आयोजित चार दिवसीय इंडिया कार्पेट एक्सपो में चर्चा बटोर रहा बीकानेर का कालीन -पानी की बर्बादी रोकने वाले इस कालीन को पसंद कर रहे हैं आस्ट्रेलिया, कनाड़ा के बायर्स

varanasi@inext.co.in

VARANASI

अपना शहर, प्रदेश और देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लोग पानी बचाने के लिए तमाम कवायद कर रहे हैं. उसी का जीता जागता उदाहरण है इंडियन कारपेट एक्स्पो में बीकानेर का इको फ्रेंडली कालीन. यही वजह है कि एक्स्पो के पहले ही दिन इस इको फ्रेंडली कालीन को आस्ट्रेलिया, कनाडा, यूके आदि कंट्रीज के बायर्स ने पसंद किया. इतना पसंद आया कि ऑर्डर तक दे दिया. तरह-तरह के कलर में अवेलेबल वूलेन से बना इको फ्रेंडली कालीन पहली बार एक्स्पो में दिख रहा है. संस्कृत यूनिवर्सिटी में चार दिवसीय इंडियन कारपेट एक्स्पो में दुनिया भर के देशों से आए बायर्स के लिए कई लुभावने ऑफर्स भी कारपेट स्टॉल्स से प्रोवाइड कराया जा रहा है.

 

वॉटर पॉल्यूशन रोकना है मकसद

वूलेन से तैयार होने वाले इको फे्रंडली कालीन को इस तरह से तैयार किया जाता है कि उससे वॉटर पॉल्यूशन न हो. इसके लिए इसमें ऐसे कलर का मिश्रण किया जाता है कि उसे बार-बार वॉश न करना पड़े. बीकानेर से आए कारपेट कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर राहुल अरोरा ने बताया कि पानी का संकट हर ओर है. अब हर कोई चाहता है कि कुछ ऐसा कालीन लिया जाए जिसकी धुलाई बेहद आसान हो, इसकी चिंता अब कारपेट तैयार करने वाले करने लगे हैं. क्योंकि कालीन तैयार करते वक्त डाई के दौरान पानी की खपत बहुत अधिक होती है. यही कारण है कि अब फ्0 से ब्0 परसेंट तक इको फ्रेंडली कालीन तैयार किया जा रहा है.

 

कीमत भी कम

इको फ्रेंडली कालीन तैयार करने में तीन मंथ का समय लगता है. एक लूम पर तैयार होने वाले एक कालीन की कीमत एक हजार स्क्वायर मीटर से तीन हजार रुपये स्क्वायर मीटर के बीच होती है. हालांकि इसमें कई प्रोडक्ट भी शामिल रहते हैं.

 

 

पानी का संकट हर ओर है. अब हर कोई चाहता है कि कुछ ऐसा कालीन लिया जाए जिसकी धुलाई बेहद आसान हो, इसकी चिंता अब कारपेट तैयार करने वाले भी करने लगे हैं.

राहुल अरोरा, कालीन कारोबारी, बीकानेर

 

 

मोदी के कालीन पर नहीं लगेगी बोली

एक्स्पो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कालीन भी काफी चर्चा बटोर रही है. मतलब, कालीन पर बैंबू सिल्क से पीएम मोदी का कटआउट टाइप का बनाया गया है. इस कारपेट को देखने के लिए तमाम बायर्स स्टॉल्स पर जुट रहे हैं. बनारस के ही स्टॉल ओनर दिलीप सिंह ने बताया कि यह कालीन सेल नहीं होगी. सिर्फ कारपेट एक्स्पो की शोभा बढ़ाने के लिए लगाई गई है. इसे ट्रेड सेंटर बड़ा लालपुर में लगाया जाना था, मगर कारपेट एक्स्पो वहां लगा नहीं इसलिए यहां लगाया गया है. इसे बनाने में तीन मंथ से भी अधिक का समय लगा.