वैसे तो आजकल Facebook पर अपने साथ-साथ तमाम दोस्तों और रिश्तेदारों की फोटो शेयर करते ही रहते हैं। कोई यूज़र आपकी पर्सनल फोटो या ग्रुप फोटो को शेयर करने के बाद उसे आप को टैग कर दे, तो आपको अपने आप पता चल जाता है कि किसने आपकी फोटो को Facebook पर शेयर है लेकिन अगर कोई व्यक्ति आपसे बिना पूछे आपकी कोई तस्वीर Facebook पर कहीं भी शेयर करा दे तो किसी को यह पता नहीं चल सकता कि आप की फोटो कहां कहां और किस मकसद से शेयर कराई जा रही है। लड़कियों के साथ होने वाले तमाम ऑनलाइन क्राइम या साइबर मोलेस्टेशन के केसेज में इस तरह की बिना जानकारी वाली तस्वीरें ही सबसे बड़ा कारण बनती हैं। क्‍योंकि लड़कियों को पता भी नहीं चल पाता कि उनकी तस्वीरों का कहां और कैसे फेसबुक पर दुरुपयोग हो रहा है। अब इसी प्रॉब्लम का शानदार सॉल्‍यूशन निकाला है Facebook ने।

फेसबुक आपकी तस्वीर पहचान कर खुद आपको जानकारी देगा
Facebook के इस नए फीचर में यही सबसे बड़ी खास बात है कि अब से दुनिया में कोई भी फोटो फेसबुक पर डाली जाएगी तो उस तस्वीर में मौजूद लोगों का फेशियल रिकग्निशन Facebook खुद करेगा। इसके बाद तस्‍वीर में मौजूद चेहरों को पहचान कर फेसबुक अपने प्लेटफॉर्म पर मौजूद उन सभी यूजर्स को नोटिफिकेशन भेजकर बताएगा, कि आपकी तस्‍वीर बिना आपको बताए यहां शेयर कराई जा रही है। Facebook के इस नए फीचर से यूजर को आसानी से पता चल जाएगा कि कौन व्यक्ति बिना उसको बताए उसकी फोटो या वीडियो शेयर करा रहा है। फेशियल रिकग्निशन से जुड़े इस नए फीचर को लेकर Facebook ने बयान दिया है कि कि हम एक नया टूल लॉन्च कर रहे हैं जो सभी Facebook यूज़र्स को हमारे प्लेटफॉर्म पर फेस रिकग्निशन प्रोग्राम के जरिए अपनी पहचान मैनेज करने में हेल्प करेगा।

जितना कम वजन उतने ही दमदार फीचर! आ गया है दुनिया का सबसे छोटा फोन

गर्ल्स सुनिए जरा! facebook का लेटेस्‍ट फीचर आपकी जिंदगी कर देगा आसान

आपके फोन को छूने की हिम्मत कोई नहीं करेगा बस कर लीजिए ये छोटा सा काम!

अगर ऐसा हो तो गर्ल्‍स क्‍या करें
फेसबुक के इस नए फीचर की हेल्‍प से अगर किसी लड़की को FB से जानकारी मिलती है कि कोई व्‍यक्ति उसकी तस्‍वीरों को दुरुपयोग कर रहा है, तो आप चाहें तो उस व्यक्ति को डायरेक्ट मैसेज करके सवाल जवाब कर सकती हैं कि वो यूजर आपकी फोटो बिना पूछे कैसे शेयर करा रहा है। अगर वो पहचान का व्‍यक्ति हो तो आप उसके द्वारा शेयर की गई तस्‍वीरों को खुद के अकाउंट पर टैग करा सकती हैं या उन्हें वहां से डिलीट करवाने के लिए बोल सकती हैं। आपके कहने के बावजूद अगर वो यूजर आपकी तस्‍वीरें न हटाए तो आप फेसबुक को इस बात की कंप्‍लेन कर सकती हैं। इससे भी काम न बने तो आखिरी रास्‍ता होगा पुलिस के सायबर सेल में उस फेसबुक यूजर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराना।

दूसरे स्‍मार्टफोन की स्‍क्रीन एक्‍सेस करें अपने फोन पर, लगेंगे सिर्फ 10 सेकेंड

परेशान करने वाली फ्रेंड रिक्वेस्ट से भी गर्ल्स को बचाएगा Facebook
फेसबुक पर परेशान करने वाले फर्जी फ्रेंड रिक्वेस्ट तो हम में से बहुत सारे लोगों के पास आते हैं। जब हम उन्‍हें ब्लॉक भी करते हैं तो कई बार सामने वाला यूजर एक नया अकाउंट बना कर फिर से हमें फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजना शुरू कर देता हैं। ऐसे खुराफाती लोगों को सीधा करने के लिए Facebook न यूजर्स की IP ट्रैक करने का सिस्टम शुरु किया है। ताकि अगर कोई यूजर सेम आईपी एड्रेस से दूसरा अकाउंट बना कर किसी दूसरे यूजर को बार-बार फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर परेशान कर रहा है तो Facebook को इसका पता चल जाएगा और वो रिक्वेस्ट पाने वाले लड़के या लड़की को इस संबंध में तुरंत जानकारी देगा। ताकि वो अलर्ट रहे और जरूरत पड़ने पर परेशान करने वाले यूजर के खिलाफ कार्रवाई करा सके।

ये हैं 2017 के टॉप-10 स्मार्टफोन, इनमें से किसने आपको बनाया दीवाना?

Technology News inextlive from Technology News Desk