हबस के लिए हत्या

By: Inextlive | Publish Date: Fri 21-Apr-2017 07:41:18
A- A+
हबस के लिए हत्या

- भाइयों को शराब पीने के लिए भेजा घर से बाहर

- संबंध बनाने से इनकार करने पर दबा दिया गला

- आरोपी ने खुद ही मचाया महिला की मौत शोर

MEERUT : कोतवाली थाना क्षेत्र में गुरुवार को घर में अकेली विवाहिता के साथ दुष्कर्म के बाद जेठ ने गला दबाकर हत्या कर डाली। हत्या के बाद आरोपी ने खुद ही बाहर जाकर महिला की हत्या का शोर मचाते हुए लोगों को बरगलाने का प्रयास किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने नशे की हालत में आरोपी सहित महिला के पति और दो अन्य भाइयों को हिरासत में ले लिया। घर में नग्न अवस्था में महिला का शव बरामद होने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। परिवार के बारे में आसपास के लोगों का फीडबैक नहीं था।

घर में पी शराब

घटनाक्रम के मुताबिक कोतवाली के नंदराम चौक पर उमेश वर्मा का परिवार रहता है। उमेश बजाजा बाजार में बर्तन की दुकान पर काम करता है। घर में उसके साथ उसके छोटे भाई विकास और भरत भी रहते हैं, जबकि बड़ा भाई संजय अपने परिवार के साथ शीश महल में रहता है। उमेश के अनुसार, गुरुवार सुबह 9 बजे वह अपने काम पर चला गया था। विकास और भरत ने बताया कि उमेश के जाने के बाद करीब 11 बजे बड़ा भाई संजय घर पर आया और अपने साथ लाए क्वाटर से शराब पीने बैठ गया। इसके बाद उसने विकास और भरत को भी सौ- सौ रुपये देकर शराब पीने के लिए भेज दिया.

विवाहिता से दुष्कर्म

इस दौरान घर पर उमेश की पत्‍‌नी कोमल और उसका भाई संजय अकेले रह गए। बताया जाता है कि इसके करीब एक घंटे बाद उसने घर से बाहर निकल कर चिल्लाना शुरू कर दिया कि किसी ने कोमल की हत्या कर दी। शोर सुनकर पड़ोसी कमरे में पहुंचे तो कोमल की लाश बेड पर पड़ी थी, शव के शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था। कमरे का नजारा देख पड़ोसी सन्न रह गए। कुछ लोगों ने हिम्मत जुटाकर शव पर तौलिया डाला और घटना की जानकारी पुलिस और मृतका के पति को दी। जिसके बाद करीब दोपहर 12.15 बजे कोमल का पति उमेश भी बदहवास हालत में घर पहुंचा.

पहुंची पुलिस

घटनाक्रम की जानकारी पर सीओ कोतवाली रणविजय सिंह और इंस्पेक्टर कोतवाली विजय गुप्ता फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस की तफ्तीश में संजय का बयान संदिग्ध नजर आ रहा था तो मृतका के पति ने भी बड़े भाई पर संशय जताया। पुलिस ने संजय से पूछताछ की तो उसने सच्चाई उगलते हुए दुष्कर्म के बाद विरोध करने पर कोमल की हत्या की बात स्वीकार कर ली। फिलहाल कोमल का कोई परिजन मौके पर नहीं पहुंचा, जिसके बाद पुलिस ने कोमल के पति उमेश हत्यारोपी जेठ संजय व अन्य दोनों भाइयों विकास और भरत को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

बर्बाद कर दिया परिवार

पुलिस की पूछताछ में आरोपी जेठ संजय ने बताया कि उसके कोमल से पिछले पांच वर्षो से अवैध संबंध थे। पेशे से सुनार संजय ने बताया कि पिछले कुछ वर्षो में उसका कारोबार चौपट हो गया था, जिसके बाद सिकंदराबाद में एक तांत्रिक से मिला जिसने उसे बताया कि कोमल ने उसके कामकाज पर टोटका करा दिया है। आरोपी के अनुसार आज वह कोमल के घर पहुंचा और घर में मौजूद दोनों भाइयों को रूपये देकर शराब पीने भेज दिया। जिसके बाद उसने कोमल के विरोध करने के बावजूद उसके कपड़े उतार डाले और जबरन शारीरिक संबंध बनाए। हाथापाई होने पर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या में किसी अन्य के शरीक होने से हत्यारोपी ने इनकार किया है.

पूरा परिवार संदिग्ध

निवासियों का कहना है कि पूरे परिवार की गतिविधियां संदिग्ध हैं। चाल- चलन ठीक नहीं है तो सभी नशेबाज हैं। लोगों ने बताया कि उमेश के सिवा उसके तीनों भाई सुनार का काम करते हैं। चारों भाई शराब पीकर आएदिन किसी न किसी से विवाद करना उनका काम है। आरोपी संजय भी विवाहित है, जिसका अपनी पत्‍‌नी से अक्सर विवाद रहता है। मृतका कोमल के दो बच्चे 3 वर्षीय वासू और 1 वर्षीय गौरी हैं। बड़े घटनाक्रम के दौरान बच्चे बदहवास खड़े थे।

- - -

दुष्कर्म के बाद महिला की हत्या के आरोप में पति के बड़े भाई को हिरासत में लिया गया। आरोपी ने अपना गुनाह कबूल किया है। पुलिस महिला का पोस्टमार्टम करा रही है तो वहीं हत्यारोपी को जेल भेजा जा रहा है।

- रणविजय सिंह, सीओ कोतवाली

inextlive from Meerut News Desk