लेडी टीचर ने प्रेमी के कमरे में यूं किया सुसाइड कि प्रेमी खुद पहुंच गया थाने!

By: Inextlive | Publish Date: Thu 11-Jan-2018 02:45:19   |  Modified Date: Thu 11-Jan-2018 03:29:24
A- A+
लेडी टीचर ने प्रेमी के कमरे में यूं किया सुसाइड कि प्रेमी खुद पहुंच गया थाने!
शाहजहांपुर निवासी प्रेमी से एक निजी स्कूल में दो वर्ष पहले जॉब के दौरान हुई थी मुलाकात। किराए पर रहने वाले प्रेमी के घर पहुंची प्रेमिका ने कमरे में पर्दा से लगाई फांसी।

 

Bareilly: निजी स्कूल की एक टीचर ने प्रेमी से झगड़ा होने के बाद वेडनसडे उसी के कमरे में फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया. युवती का दो वर्ष पहले बीडीए कॉलोनी में किराए पर रहने वाले शाहजहांपुर निवासी युवक से प्रेम हो गया था. युवती अपने मां-बाप की इकलौती थी. कमरा बंद होने पर प्रेमी ने गेट खुलवाने की कोशिश की, लेकिन गेट नहीं खुला. जिसके बाद प्रेमी ने तोड़कर उसे फंदा से उतारा. शिक्षिका की मौत की सूचना देने के लिए वह खुद चौकी पर पहुंच गया. पुलिस ने प्रेमी को हिरासत में लेकर शव पोस्टमार्टम को भेज दिया है.

 

झगड़े के बाद लगाया फंदा

सुभाषनगर के इंद्रापुरम निवासी सुरेश गुप्ता की इकलौती बेटी स्वाति गुप्ता 24 वर्ष क्षेत्र के ही वरुणदीप मेमोरियल जूनियर हाईस्कूल में टीचर थी. स्वाति के साथ बीडीए कॉलोनी में किराए पर रहने वाले मनोज भी स्कूल में पढ़ाता था. दोनों को एक साथ पढ़ाने के दौरान पे्रम हो गया. स्वाति गुप्ता एमएससी फाइनल कर चुकी थी जबकि मनोज बीएससी सेकंड ईयर का स्टूडेंट है. वेडनसडे सुबह स्वाति गुप्ता मनोज के कमरे पर पहुंची, जिसके बाद दोनों में झगड़ा हो गया. इसी बात से गुस्साई स्वाति गुप्ता ने कमरे में टंगा पर्दा सीलिंग फैन में फंसाकर फंदा लगा लिया.

 

शाहजहांपुर का रहने वाला है प्रेमी

बीडीए कॉलोनी में रहने वाला मनोज शाहजहांपुर का रहने वाला है. वह ढाई वर्ष से मोहल्ले में कमरा लेकर रहने लगा था. एक वर्ष तक मनोज भी वरू णदीप मेमोरियल जूनियर हाईस्कूल में पढ़ाता था, लेकिन उसके बाद उसने स्कूल की जॉब छोड़ दी और कोचिंग पढ़ाना शुरू कर दी.

 

पहले फोन पर फिर कमरे पर हुआ था झगड़ा

 मनोज की मुलाकात स्वाति से दो साल पहले स्कूल में ही हुई थी. जिसके बाद दोनों की दोस्ती हो गई और दोस्ती प्यार में बदल गई. ट्यूजडे रात स्वाति ने मनोज को फोन किया था जिसके बाद दोनों का किसी बात पर झगड़ा हुआ था, और स्वाति सुबह मनोज के कमरे पर पहुंच गई. जहां पर दोनों में फिर से झगड़ा हुआ. आरोप है स्वाति ने मनोज के कमरे से निकलते ही गेट बंद कर फंदा लगा लिया. जब मनोज ने कमरा बंद देखा तो गेट खुलवाने का प्रयास किया लेकिन गेट नहीं खुला. आनन-फानन में मनोज ने कमरे का गेट तोड़ा और स्वाति को फंदे से नीचे उतारा लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी.

 

खुद पहुंच गया करगैना पुलिस चौकी

स्वाति गुप्ता की मौत की सूचना देने के लिए मनोज खुद करगैना पुलिस चौकी पहुंचा. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और थाना पुलिस ने प्रेमी को हिरासत में ले लिया.

 

युवती ने प्रेमी के कमरे पर पहुंचकर फंदा लगा लिया है. जिससे उसकी मौत हो गई. पुलिस ने प्रेमी को हिरासत में ले लिया है पूछताछ जारी है. अभी तहरीर नहीं मिली है.

कृष्ण मुरारी दोहरे, एसएचओ सुभाषनगर