प्राथमिकी दर्ज करवाई
पीडि़ता के मुताबिक दुमका साइबर सेल में डीएसपी के पद पर तैनात श्रीराम समद ने धोखे में रख कर कोर्ट मैरिज की और शादी के कुछ दिनों बाद ही इनके साथ मारपीट करने लगे. थक-हार कर अलका मिंज ने श्रीराम समद के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई और मामला फिलहाल न्यायालय में चल रहा है.

पीडि़ता को मिल रही है धमकी
वहीं, पीडि़ता के अधिवक्ता विक्रांत कुमार का कहना है कि लालपुर थाना में अलका द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराए जाने के बाद आरोपी डीएसपी ने न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की है. इस बीच पीडि़ता को कई तरह की धमकियां भी मिल रही हैं.

मुझे इंसाफ चाहिए
इधर, पुलिसिया जांच में सुस्ती को देखते हुए इस पूरे मामले की जानकारी रांची एसएसपी को भी दी गई है, ताकि मामले की जांच निष्पक्ष हो सके और दोषी पर कार्रवाई हो सके. पूरे मामले पर पीडि़ता का कहना है कि श्रीराम समद को पुलिस सपोर्ट कर रही है, जिस कारण मेरे मामले पर ध्यान नहीं दिया जा रहा, मुझे इंसाफ चाहिए.