- मंत्रियों को नहीं मिला अभी तक पोर्टफोलियो

- पहले दिन कार्यकर्ताओं और समर्थकों से मुलाकात में गुजरा दिन

DEHRADUN: प्रदेश में त्रिवेद्र रावत के नेतृत्व में नई सरकार का गठन तो हो गया है, लेकिन अभी सरकार के नए मंत्रियों को पोर्टफोलियो नहीं मिल पाया है. ऐसे में समय का सदुपयोग करते हुए अधिकतर मंत्रियों ने पहले दिन कार्यकर्ताओं और समर्थकों से मुलाकात की. साथ ही नेताओं ने पूजा अर्चना भी की.

देवी-देवताओं के किए दर्शन

रविवार को सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत यूपी के सीएम और मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए लखनऊ पहुंचे और देर शाम दून लौट आए. भले ही पहले सीएम के साथ पूरी कैबिनेट का हरिद्वार गंगा स्नान के लिए जाना था, लेकिन सीएम के लखनऊ कार्यक्रम में जाने के कारण हरिद्वार का कार्यक्रम कैंसिल हो गया. आज सीएम का हरिद्वार जाने का कार्यक्रम है. इधर रविवार को शपथ ग्रहण करने वाले तमाम नेताओं ने रविवार को अपने आराध्य देवी-देवताओं की पूजा अर्चना की. मंत्रियों ने कार्यकर्ताओं और सर्मथकों से मुलाकात भी की. कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ऋषिकेश होते हुए सतपुली पहुंचे. इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं और स्थानीय लोगों से मुलाकात की. कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने सुबह सिद्धपीठ शाकुंभरी देवी के दर्शन किए और इसके बाद हरिद्वार रवाना हो गए. उन्होंने कार्यकर्ताओं और शहर के अन्य लोगों से मुलाकात की और उनका आभार जताया. कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय ने अपने दिन की शुरुआत पूजापाठ के साथ की. इसके बाद वे संघ कार्यालय पहुंचे और संघ पदाधिकारियों से मुलाकात कर उनका आभार जताया. इसके बाद आवास पर आने के बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और आभार जताया. राज्य मंत्री रेखा आर्य ने ऋषिकेश में मीडिया के साथ बातचीत की और सरकार की प्राथमिकताओं से अवगत कराया, इसके साथ ही उन्होंने नीलकंठ महादेव के मंदिर में दर्शन किए और आशीर्वाद लिया. त्रिवेंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री बने सुबोध उनियाल ने भी कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर उनका आभार जताया. आज पूरी कैबिनेट स्वच्छता अभियान के साथ दिन की शुरुआत करेगी. इसके बाद कैबिनेट बैठक भी संभावित है.

हरक-सुबोध ने बहुगुणा का जताया आभार

कैबिनेट मंत्री बनाए गए हरक सिंह रावत और सुबोध उनियाल ने पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के आवास पर पहुंच उनसे मुलाकात की और उनका आभार जताया. इसके बाद सभी ने विधायक उमेश शर्मा काऊ के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की. आपको बता दें कि कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आने वाले नेताओं में विजय बहुगुणा, हरक सिंह, सुबोध उनियाल, उमेश शर्मा काऊ शामिल थे.