- प्रधानमंत्री आवास योजना का मामला, एलडीए ने शुरू की तैयारियां

- 2400 मकानों के निर्माण के लिए जमीन चिन्हित की गई, 8 से 10 दिन में तैयार होगा डीपीआर

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW प्रधानमंत्री आवास योजना को लेकर एलडीए ने तैयारियां तेज कर दी गई हैं. इसी कड़ी में एलडीए की ओर से पहले चरण में करीब 2400 मकानों का निर्माण कराया जाएगा और इन मकानों के निर्माण के लिए जमीन भी चिन्हित कर ली गई है. जानकारी के अनुसार, अगले आठ से दस दिन में इन मकानों के निर्माण के बाबत डीपीआर भी तैयार कर शासन के पास भेज दिया जाएगा.

12 हजार का टारगेट

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एलडीए को करीब 12 हजार मकानों का निर्माण कराना है. ये टारगेट मिलने के बाद एलडीए अधिकारियों की ओर से जमीन तलाशने का काम शुरू कर दिया गया था. एलडीए की ओर से साफ कर दिया गया था कि पूरे शहर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकानों का निर्माण कराया जाएगा.

सभी जोन अधिकारियों को जिम्मेदारी

सभी जोन अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई थी कि वे लोग अपने-अपने जोन में मकानों के निर्माण के लिए जमीन तलाशें. इसके साथ ही उन्हें यह भी निर्देश दिए गए थे कि अगर कहीं अवैध निर्माण है तो उसे ध्वस्त कर जमीन खाली कराई जाए. जिससे उक्त जमीन पर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान का निर्माण कराया जा सके.

2400 का रास्ता साफ

एलडीए की ओर से करीब 2400 मकानों के निर्माण का रास्ता साफ कर दिया गया है. जानकारी के अनुसार, इन मकानों के निर्माण के लिए जमीन भी तलाश ली गई है. जबकि शेष मकानों के निर्माण के लिए जमीन तलाशने का काम जारी है.

वीसी खुद कर रहे मॉनीटरिंग

एलडीए वीसी खुद प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत चल रही तैयारियों की मॉनीटरिंग कर रहे हैं. जिससे कोई लापरवाही न बरती जाए. उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द 2400 मकानों के निर्माण के लिए डीपीआर तैयार कराया जाए.

जनता को मिलेगी राहत

2400 मकानों के निर्माण होने के बाद उन लोगों को खासी राहत मिलेगी, जिन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवेदन किया है. आवेदन करने वाले अक्सर एलडीए आकर आवासों के निर्माण के बाबत जानकारी प्राप्त कर रहे हैं.

वर्जन

यह बात सही है कि एलडीए की ओर से पहले चरण में 2400 मकानों का निर्माण कराया जाएगा. इन मकानों के निर्माण के लिए जमीन भी तलाश ली गई है. वहीं अगले आठ से दस दिन में डीपीआर बनाने का काम पूरा कर लिया जाएगा.

पीएन सिंह, वीसी, एलडीए