सबको पता होनी चाहिए 'आधार पे एप' की पांच बातें

By: Inextlive | Publish Date: Fri 14-Apr-2017 04:08:00   |  Modified Date: Fri 14-Apr-2017 04:08:59
A- A+
सबको पता होनी चाहिए 'आधार पे एप' की पांच बातें
जबसे सरकार ने नोटबंदी का एलान किया है उसके बाद से डिजिटल पेमेंट को आसान बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इसी के तहत आम आदमी के लिए बिना कार्ड और पासवर्ड के पेमेंट की फेसेलिटी देने का प्रयास किया जा रहा है। आधार पेमेंट ऐप इसी का एक हिस्‍सा है जिसकी मदद से लोग आसानी से भुगतान कर सकेंगे। इसकी घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शुक्रवार को कर दी है। आइये जाने इस मोबाइल ऐप से जुड़ी कुछ खास बातें।

भीम एप से जुड़ होगा सिस्‍टम
नागपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आधार और भीम एप से जुड़े एक नए पेमेंट सिस्टम का उद्घाटन किया है। ये एक फिंगर प्रिंट से चलने वाली ऐप है जो आपके अंगूठे की मदद से काम करेगी। इसके लिए मोबाइल का साथ होना जरूरी नहीं जरिए सिर्फ दुकानदार के पास एक स्मार्टफोन और बॉयोमीट्रिक स्कैनर मशीन होनी चाहिए। इसके इस्‍तेमाल से डेबिट और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट पर दुकानदारों पर जो 2.5 फीसदी चार्ज लगता है वह भी नहीं लगेगा।
आधार नंबर से फ्री में डाउनलोड करिए कोई भी नक्‍शा

कैसे करेंगे भुगतान
इस एप से भुगतान के लिए उपभोक्ता की उंगली का निशान और बैंक का नाम बताना होगा। इसके बाद जिसे भुगतान लेने वाला उक्‍त बैंक के सर्वर से मशीन का लिंक करेगा और उंगली के निशान के मैच होते ही भुगतान हो जायेगा। जिन लोगों के बैंक खाते आधार के साथ लिंक हो गए हैं, वे सभी इस सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। आधार पे एप से भुगतान करने पर फ्राड की संभावना बहुत कम हो जायेगी। सबसे बड़ी बात है कि इस एप से भुगतान लेने वाले के पास एक र्स्‍माटफोन होना चाहिए। जिससे बायोमेटिक सेंसर जोड़ा जा सके।
बिना आधार नहीं कर पाएंगे रिटर्न फाइल, जानें कैसे लिंक करें पैन से आधार

14 बैंक करेंगे शुरूआत
आधार पे सिस्टम की शुरुआत 14 बैंकों के साथ होने की बात की जा रही है। जिनमें से पांच बैंको भारतीय स्टेट बैंक, सिंडीकेट बैंक, आईडीएफसी बैंक, आंध्रा बैंक और इंडसइंड बैंक ने पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया है। सरकार ने कहा है कि वो आधार पे को भीम एप के साथ जोड़ने का विचार कर रही है। ताकि सभी बैंक एक साथ ये नयी सुविधा मुहैया करा सकें।
अब जमीनों की पहचान के लिए बनेगा आधार कार्ड

एक ही है परेशानी
भीम आधार ऐप से पेमेंट करने के लिए उपभोक्‍ता को मोबाइल, इंटरनेट किसी की भी जरूरत नहीं होगी। इस एप से में महज एक ही दिक्‍कत है कि जिस व्‍यक्‍ति का बैंक अकाउंट है वही इसका इस्‍तेमाल कर सकेगा। उसके स्‍थान पर कोई भी यहां तक कि परिवार का ही दूसरा सदस्‍य इस सुविधा से भुगतान नहीं कर सकेगा। ऐसा इसलिए कि अंगूठे का इंप्रेशन खाता धारक का ही होगा।

एक नजर में पांच मुख्‍य बातें

  • पेमेंट के लिए आधार नंबर की जरूरत होगी।
  • मोबाइल या इंटरनेट की जरूरत पेमेंट करने के लिए नहीं, बल्कि पेमेंट रिसीव करने के लिए होगी।
  • दुकानदारों के पास मोबाइल में भीम-आधार ऐप होगा जिसे एक बायोमेट्रिक डिवाइस से छोटे तार के जरिए जोड़ा जाएगा।
  • आधार पे के लिए किसी प्रकार के डेबिट-क्रेडिट कार्ड और पासवर्ड की जरूरत नहीं है।
  • किसी प्रकार के सर्विस टैक्स नहीं कटेंगे।

Business News inextlive from Business News Desk