अफसरों पर गिरी गाज, चलेगी वि5ागीय कार्रवाई

रांची : काम में लापरवाही बरतने, अनुपस्थित रहने और समय पर प्र5ार ग्रहण न करने वाले चार प्र2ांड विकास पदाधिकारियों को मु2यमंत्री रघुवर दास ने निलंबित करते हुए इन पर वि5ागीय कार्रवाई चलाने का निर्देश दिया है. निलंबन की अवधि के दौरान इन स5ाी का मु2यालय कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राज5ाषा वि5ाग रांची निर्धारित किया गया है. मु2यमंत्री ने अनधिकृत रूप से कर्तव्य से अनुपस्थित रहने तथा प्र2ांड विकास पदाधिकारी डुमरी द्वारा पद पर योगदान नहीं देने पर गिरिडीह जिला में पदस्थापित प्र2ांड विकास पदाधिकारी रजनी रेजीना इंदवार को निलंबित करते हुए वि5ागीय कार्यवाही संचालित करने का निर्देश दिया है. इसी प्रकार केरेडारी, हजारीबाग के प्र2ांड विकास पदाधिकारी चंदन को 5ाी पद पर योगदान नहीं देने तथा वि5ाग में चिकित्सा के लिए अवकाश का आवेदन देकर अनधिकृत रूप से अनुपस्थित रहने पर कार्रवाई की गई है. प्र2ांड विकास पदाधिकारी पदमा, हजारीबाग के पद पर योगदान नहीं करने पर हजारीबाग जिले में पदस्थापित प्र2ांड विकास पदाधिकारी राकेश रंजन पर 5ाी कार्यवाही की गई है. पुष्पक रजक प्र2ांड विकास पदाधिकारी टोन्टो, पश्चिम सिंह5ाूम पर 5ाी इन्हीं कारणों से कार्रवाई की गई है. इन स5ाी पर झार2ांड सरकारी सेवक (वर्गीकरण, नियंत्रक एवं अपील) नियमावली-2016 के नियम 9 (1)(क) के तहत निलंबित करते हुए उन पर वि5ागीय कार्यवाही प्रारं5ा करने का निर्देश दिया है.

इन पर 5ाी हुई कार्यवाही

मु2यमंत्री रघुवर दास ने राजकुमार प्रसाद, कार्यपालक अ5िायंता लघु सिंचाई प्रमंडल गढ़वा के वेतनवृद्धि पर रोक की सजा देने का आदेश दिया है. प्रसाद पर आरोप है कि उन्होंने लघु सिंचाई प्रमंडल गढ़वा के अधीन कार्यपालक अ5िायंता के पद पर पदस्थापित रहने के दौरान मु2य अ5िायंता द्वारा दिए गए निर्देशों का अनुपालन नहीं किया. इन पर सांसद-विधायकों और जन प्रतिनिधियों की अनुशंसाओं के क्रियान्वयन में 5ाी ढिलाई बरतने का आरोप है. ये बिना अवकाश स्वीकृत कराए मु2यालय से अनुपस्थित रहे और इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगें जाने पर उसका उत्तर तक नहीं दिया. मु2यमंत्री ने गिरिजा नंद किस्कू तत्कालीन प्र2ांड विकास पदाधिकारी बाघमारा संप्रति निलंबित द्वारा न्यायिक हिरासत से मुक्त होने के बाद कार्मिक वि5ाग में योगदान देने की तिथि 22 नवंबर से योगदान को स्वीकृत करते हुए उन्हें पुन: निलंबित करने का आदेश दिया है. किस्कू के विरुद्ध 50 हजार रुपये रिश्वत लेने के आरोप में 19 सितंबर को एसीबी, धनबाद द्वारा गिर3तार कर न्यायिक हिरासत में लिया गया था.

----