बसों की टक्कर में बच्ची सहित चार श्रद्धालुओं की मौत

By: Inextlive | Publish Date: Sat 12-Aug-2017 07:40:47
A- A+
बसों की टक्कर में बच्ची सहित चार श्रद्धालुओं की मौत

रोडवेज बस और प्राइवेट बस में हुई भीषण टक्कर

भयानक हादसे में 4 की मौत, 18 लोग घायल

आगरा। थाना मलपुरा स्थित जयपुर हाईवे पर शुक्रवार तड़के आगरा की तरफ से जा रही प्राइवेट बस में सामने से आ रही रोडवेज बस ने जोरदार टक्कर मार दी। आमने- सामने की टक्कर में जोरदार धमाका हुआ। इस हादसे में प्राइवेट बस के चालक और बच्ची समेत चार लोगों जिंदगी खत्म हो गई, जबकि घायल 18 लोगों को एसएन भेजा गया.

कई स्थानों पर जाना था दर्शन करने

औरैया के बिधूना से दस दिन की यात्रा के लिए लोग निकले थे। बस में करीब 52 लोग सवार थे। लोगों को राजस्थान में जाहरवीर गोगाजी, बालाजी, कैला देवी आदि मंदिरों पर दर्शन करने थे। बस दोपहर 3 बजे औरैया से चली थी। शुक्रवार तड़के 3:30 बजे बस जयपुर हाईवे पर स्थित पथौली नहर के पास से निकल रही थी.

आमने- सामने की हुई जोरदार टक्कर

उसी दौरान किरावली की तरफ से राजस्थान की बस आ रही थी। इस बस को कोटा से जयपुर होते हुए फीरोजाबाद जाना था। बताया गया है कि रोड को चौड़ा करने के लिए काम चल रहा है जिसके चलते वहां पर गड्डे हैं। राजस्थान की बस गड्डा बचाने के चक्कर में प्राइवेट बस के सामने आ गई। दोनों बसों में आमने- सामने की जोरदार टक्कर हो गई.

बस में बुरी तरह से फंस गए थे लोग

प्राइवेट बस चालक ने बचने के लिए बस को रोड से नीचे उतारा, लेकिन बेकाबू रोडवेज बस उसे रौंदती गई। घटना में प्राइवेट बस का चालक की तरफ का हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। अंदर बैठी सवारियों में चीख पुकार मच गई। आस पास के लोगों ने मौके पर दौड़ लगा दी। हादसे के बाद सवारियां बस में फंसी रह गई.

4 लोगों की मौत व कई घायल

क्षतिग्रस्त बस में सवार कुछ लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूम सूचना दी। दस मिनट में मौके पर 8 पीआरवी, सीओ अछनेरा मय फोर्स के पहुंच गए। बस में फंसे लोगों को बाहर निकाला गया.

इस भीषण हादसे में 32 वर्षीय इंद्रजीत पुत्र श्रीकृष्ण निवासी बिल्हौर में गांव दीमक उनकी पत्‍‌नी 24 वर्षीय रिंकी व प्राइवेट बस के चालक 25 वर्षीय कल्लू पुत्र इलियास निवासी बिधूना औरैया के अवाला और डेढ़ साल की देवांशी पुत्री अंकित निवासी सौरिख कन्नौज की मौत हो गई, जबकि एक दर्ज से अधिक लोग घायल हो गए.

मासूम के सिर से उठा साया

इंद्रजीत आईटीबीटी में कांस्टेबल के पद पर तैनात थे, वह अपनी पत्‍‌नी रिंकी और डेढ़ साल की बेटी के साथ दर्शन करने निकले थे। रक्षाबंधन के त्योहार पर वह 15 दिन की छुट्टी लेकर आए थे। हादसे में इंद्रजीत और उनकी पत्‍‌नी रिंकी की मौत हो गई, जबकि उनकी बेटी गंभीर रूप से घायल हो गई.

नींद में मारा मौत ने झपट्टा

औरैया से निकली बस रात में एक बजे करीब हाथी घाट पर रुकी थ्ीा। यहां पर कुछ समय रुकने के बाद बस आगे बढ़ी और मलपुरा में हादसा हो गया। जिस दौरान हादसा हुआ उस दौरान सभी प्राइवेट बस में सवार लोग सो रहे थे.

inextlive from Agra News Desk