लुटेरों के कहर के बाद घुमाने लगे टप्पेबाज

By: Inextlive | Publish Date: Wed 14-Feb-2018 07:01:00
A- A+
लुटेरों के कहर के बाद घुमाने लगे टप्पेबाज

- जिले में लगातार बढ़ती जा रही जालसाजी की घटनाएं

- कभी स्प्रे मारकर तो कभी गंदा फेंककर बदमाश कर रहे वारदात

GORAKHPUR: लूट की ताबड़तोड़ वारदातों के बाद अब जिले में एक्टिव बदमाशों ने नया ट्रेंड अपना लिया है। असलहों के बल पर लूटने वाले लुटेरों से अधिक टप्पेबाज सक्रिय हो गए हैं। जो लोगों को किसी न किसी बात का झांसा देकर लूट रहे हैं। हाल के दिनों की ही बात की जाए तो बीते एक महीने के दौरान टप्पेबाजों ने करीब आधा दर्जन से अधिक ऐसी घटनाओं को अंजाम दिया है। कभी ऊपर गंदा फेंककर तो कभी आंखों में स्प्रे मारकर बदमाश लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं। वहीं, अगर पुलिस सक्रियता की बात की जाए तो इन जालसाजों को पकड़ पाना तो दूर पुलिस अभी तक इनकी परछाई भी नहीं छू सकी है।

झांसा देकर बनाते हैं शिकार

यह बदमाश लोगों को किसी मामूली सी बात का झांसा देकर पहले उन्हें उलझा देते हैं और फिर उनके रुपए, बैग आदि लेकर फरार हो जाते हैं। एक से दो बदमाश मिलकर ही इस तरह की घटना को अंजाम दे जा रहे हैं। वहीं, एक एरिया में एक घटना करने के बाद यह बदमाश एरिया भी बदल देते हैं। ताकि पुलिस की पकड़ से बचे रहें।

पास्ट हिस्ट्री

केस- 1

12 फरवरी को गोरखनाथ इलाके में बदमाशों ने कार सवार की आंखों में स्प्रे मारकर बैग लूट लिया। बैग में 1500 रुपए नकद सहित पैनकार्ड, एटीएम, चेकबुक और कुछ जरूरी कागजात थे। पीडि़त की सूचना पर पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। गोरखनाथ इलाके के राजेंद्र नगर वृन्दावन कॉलोनी के रहने वाले ओम प्रकाश मिश्रा सोमवार सुबह अपनी कार से कहीं जा रहे थे। इस बीच गोरखनाथ मंदिर के पास जाम में फंस गए। तभी वहां पहुंचे दो युवकों ने उनसे कहा कि उनका मोबाइल गिर रहा है। यह देखने के लिए ड्राइवर जैसे ही गाड़ी से नीचे उतरा, बदमाशों ने दोनों की आंखों में स्प्रे मार दिया। जब तक वह कुछ समझ पाते, बदमाश बैग लेकर फरार हो चुके थे।

केस- 2

ं5 फरवरी को पंजाब नेशनल बैंक से रुपए निकालकर घर जा रहे गन फैक्ट्री के पूर्व कर्मचारी बेचन नाविक को नहर रोड, रुस्तमपुर से बोलेरो सवार बदमाशों ने अगवा कर 17 हजार रुपए लूट लिए। बाद में उन्हें खोराबार इलाके में सिक्टौर चौराहे के पास गाड़ी से उतार कर चले गए। टेंपो का किराया देने के लिए बदमाश उन्हें 500 रुपए भी दे गए थे। वह दिन में अपने खाते से 17 हजार हजार रुपए निकालकर पैदल घर जा रहे थे। इस बीच एक बोलेरो में सवार युवक ने उन्हें घर पहुंचाने का झांसा देकर गाड़ी में बैठा लिया। इसके बाद बदमाशों ने उनके जेब में रखे 17 हजार रुपये निकाल लिए। इस बीच गाड़ी खोराबार इलाके में सिक्टौर चौराहे के पास पहुंच गई थी। बदमाशों ने गाड़ी रोक कर उन्हें वहीं उतार दिया और उनको 500 रुपए का नोट देकर टेंपो से घर चले जाने की बात कहकर फरार हो गए।

केस- 3

28 जनवरी को मोहद्दीपुर से कुसम्ही बाजार छोड़ने का झौंसा देकर बदमाशों ने रिटायर्ड विद्युत कर्मी को कार में बैठाने के बाद तमंचा सटाकर 10 हजार रुपए लूट लिए। इसके बाद बदमाश उन्हें खोराबार के भैसहा पेट्रोल पंप के पास छोड़कर फरार हो गए। पिपराइच के इमिलिया उर्फ बिजहरा निवासी 65 वर्षीय मुन्नीलाल रिटायर्ड विद्युत कर्मी हैं। वह स्टेट बैंक शाखा मोहद्दीपुर में रुपया निकालने गए थे। खाते से दस हजार रुपए निकाल वह शाम करीब 6 बजे वापस घर आने के लिए मोहद्दीपुर में सवारी का इंतजार कर रहे थे। तभी उनके पास एक कार आकर रुकी। कार में सवार दो युवकों ने पूछा की कहां जाना है। उन्होंने कुसम्ही बाजार जाने की बात कही। उन्होंने उधर ही जाने की बात कह कर उन्हें छोड़ने का झांसा दे कार में बैठा लिया। कार आगे जाकर कूड़ाघाट से देवरिया की तरफ मुड़ गई तो वह उनसे वहीं उतारने की बात कहने लगे। जब युवक नहीं माने तो मुन्नीलाल ने शोर मचाना चाहा लेकिन बदमाशों ने तमंचा सटा दिया। 10 हजार नकदी लूट कर उन्हें खोराबार के भैसहा पेट्रोल पंप के पास फोरलेन पर छोड़कर फरार हो गए.

केस- 4

23 जनवरी को डीआईजी ऑफिस के पास खड़ी कार का शीशा तोड़कर उचक्के उसमें रखा बैग लेकर फरार हो गए। बस्ती जिले के राजा बाजार निवासी संजीव कुमार दीवानी कचहरी में किसी अधिवक्ता से मिलने आए थे। वह कार को डीआईजी कार्यालय के पास सड़क के किनारे पार्क कर कचहरी चले गए। इस बीच उचक्के कार में पीछे का शीशा तोड़कर सीट पर रखा बैग लेकर फरार हो गए। कुछ देर बाद वह जब कार के पास पहुंचे तो शीशा टूटा देख परेशान हो उठे। बैग गायब देख उन्होंने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी।

केस- 5

23 जनवरी को ही कोतवाली इलाके के जुबली टॉकिज के पास जैकेट पर गंदा फेंककर दो उचक्के रिटायर्ड स्वास्थ्य कर्मी को झांसा देकर रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए। कर्मचारी से शोर मचाते हुए कुछ दूर तक पीछा किया लेकिन वह भागने में सफल रहे। बरगदवां के ओम शांति नगर कॉलोनी के तिलक प्रसाद एलआईसी की किश्त जमा करने बक्शीपुर आए थे। पैदल ही जुबली टॉकिज के पास पहुंचे थे कि पीछे से आए दो युवकों ने जैकेट के पीछे गंदा लगा होने की जानकारी दी। वह पास खड़े रिक्शा चालक से इसकी पुष्टि करने के बाद हाथ में रखे बैग को टॉकिज के पास बने चबूतरे पर रख कर जैकेट निकालने लगे। जैकेट निकालने के बाद मालूम चला कि वह गंदा नहीं बिस्किट का घोल है। इसी दौरान उनका ध्यान बैग पर गया। बैग दोनों युवक लेकर बक्शीपुर की तरफ पैदल लेकर भाग रहे थे। उन्होंने शोर मचाते हुए कुछ दूर तक उनका पीछा किया लेकिन वह फरार हो गए.

केस- 6

23 जनवरी को ही गगहा एरिया के चंवरिया स्थित गोयल फ्लोरमिल के सामने खड़ी ट्रक की केबिन में सोए गाड़ी मालिक की जेब से चोरों ने 42 हजार रुपए उड़ा लिए। बिहार का ट्रक नंबर बीआर 44 जी 0356 से चोकर मैदा की लोडिंग करने गोयल फ्लोर मिल चंवरिया पहुंचा। लोडिंग न होने के कारण रात में गाड़ी को मिल के सामने खड़ी कर ट्रक की केबिन में गाड़ी मालिक पंकज यादव दूसरे ट्रक के मालिक जयप्रकाश यादव और ड्राइवर हरेंद्र यादव सोए थे। देर रात अज्ञात चोरों ने ट्रक के केबिन का साइड का शीशा तोड़ दिया। केबिन में घुसे चोरों ने पॉकेट काट कर पंकज की जेब से 20 हजार व जयप्रकाश यादव की जेब से 22 हजार उड़ा दिए। इतने में जयप्रकाश यादव की नींद टूटी और शोर मचाने पर चोर केबिन से कूद कर खेत की ओर भाग गए।

वर्जन- 55

inextlive from Gorakhpur News Desk