-रहपुरा चौधरी से लिया गया कचरी का सैंपल पाया गया अनसेफ,

-दूध, खोया, नमकीन, बिस्कुट, सबके सैंपल सब स्टैंडर्ड

क्चन्क्त्रश्वढ्ढरुरुङ्घ: बरेलियंस के लिए यह खबर काफी चौंकाने वाली है. बरेली में कचरी, दूध, खोया, नमकीन, बिस्कुट, तेल सब में कुछ न कुछ मिलावट की जा रही है. यही नहीं पैकेजिंग व लेबलिंग में भी गड़बड़ी की जा रही है. एफएसडीए के द्वारा भेजे गए करीब 50 सैंपल में 40 सबस्टैंडर्ड पाए गए हैं और कचरी का सैंपल जिंदगी के लिए अनसेफ पाया गया है. ऐसे में, बाहरी सामान खाने वाले अलर्ट हो जाएं, नहीं तो आपकी जिंदगी भी खतरे में पड़ सकती है.

करीब 50 सैंपल भेजे गए थे

चीफ फूड इंस्पेक्टर अक्षय प्रधान ने बताया कि एफएसडीए ने तेल, दूध, खोया, नमकीन, बिस्कुट, लड्डू, पनीर, सरसों का तेल, लौज, समेत करीब 50 सैंपल भरे थे. इन सैंपल को फॉरेंसिक लैब में जांच के लिए भेजा गया था. इनमें से अधिकांश सैंपल दीपावली के वक्त लिए गए थे. कुछ दिनों पहले जब इन सभी सैंपल की रिपोर्ट आयी तो अधिकांश में मिलावट ही पायी गई है. दूध में पानी की मिलावट की गई तो लड्डू में केमिकल कलर मिला दिया था. त्योहारों पर ऐसा अक्सर किया जाता है. खोया मंडी से लिए गए दो सैंपल में दोनों सब स्टैंडर्ड पाए गए, जबकि अधिकांश खोया की सप्लाई यहीं से होती है.

कचरी में मिलाया गया सिंथेटिक कलर

एफएसडीए ने रहपुरा चौधरी इज्जतनगर से 29 जून 2016 को कचरी का सैंपल लिया था. सैंपल की रिपोर्ट में कचरी अनसेफ पायी गई है. कचरी में नान परमिटेड सिंथेटिक कलर मिलाया गया था. यही नहीं इसमें रोडामाइन केमिकल भी पाया गया. यह केमिकल सेहत के लिए हानिकारक है. अब कचरी बेचने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराकर उसके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.

ये सैंपल पाए गए सब स्टैंडर्ड

-19 दिसंबर 2016 को नकटिया पुल से बफैलो मिल्क का सैंपल

-15 दिसंबर 2016 को परतापुर जीवन सहाय से खोया का सैंपल

-23 नवंबर 2016 को संजय नगर से मिक्सड मिल्क का सैंपल

-22 नवंबर 2016 को रामगंगा पुल से बफैलो मिल्क का सैंपल

-28 अक्टूबर 2016 को खोया मंडी से खोया का सैंपल

-28 अक्टूबर 2016 को फतेहगंज पश्चिमी से दही का सैंपल

-27 अक्टूबर 2016 को हरुनगला में दूध का सैंपल

-27 अक्टूबर 2016 को नैनीताल रोड बहेड़ी रोड से पनीर का सैंपल

-26 अक्टूबर 2016 को फतेहगंज पश्चिमी से बूंदी के लड्डू का सैंपल

-26 अक्टूबर 2016 श्यामगंज से राधे नमकीन का सैंपल, पैकेजिंग व लेबलिंग में गड़बड़ी

-26 अक्टूबर 2016 को सर्किट हाउस चौराहा से नमकीन बूंदी रायता का सैंपल, पैकेजिंग व लेबलिंग नहीं पायी गई

-22 अक्टूबर 2016 को संजय नगर से बफैलो मिल्क का सैंपल

-17 अक्टूबर 2016 को सनसिटी विस्तार से लक्ष्मी ब्रांड केवड़ा का सैंपल, मिसब्रांडेड पाया गया

-8 अक्टूबर 2016 को नेकपुर से सरसों के तेल का सैंपल

-7 अक्टूबर 2016 को बीसलपुर कर्मचारी नगर से सोनपापड़ी का सैंपल

-3 अक्टूबर 2016 को सर्किट हाउस चौराहा बेसन का सैंपल, मटर मिलाई गई

-20 अगस्त 2016 को करगैना से दूध का नमूना लिया गया था. इसमें फेट की मात्रा कम पायी गई है.

-11 अगस्त 2016 को फतेहगंज पश्चिमी से बर्फी का सैंपल

-28 जुलाई 2016 को वंशीनगला से बिस्कुट का सैंपल

-6 जुलाई 2016 को सीबीगंज से लाल मिर्च का सैंपल, ओपन में बिक्री

वर्ष 2016 में भेजे गए सैंपल्स की रिपोर्ट आ गई है. कचरी अनसेफ पायी गई है. इसके अलावा कई प्रोडक्ट के सैंपल सबस्टैंडर्ड आए हैं.

ममता कुमारी, डेजिगनेटेड ऑफिसर एफएसडीए