UTTARKASHI: चार धाम यात्रा शुरू होने में महज 24 घंटे शेष रह गए हैं. बुधवार को गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए खोल दिए जाएंगे. इस खास दिन के लिए गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर को फूलों से सजाया जा रहा है. वहीं बदरीनाथ धाम में साफ सफाई का कार्य पूरा हो चुका है और मंदिर में रंग रोगन का कार्य अंतिम चरण में है.

यात्रा को लेकर उत्साह

इस बार चार धाम यात्रा को लेकर स्थानीय लोगों में खास उत्साह है. उत्तरकाशी जिले में होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष शैलेंद्र मटूड़ा बताते हैं कि इस बार चार धाम यात्रा को लेकर व्यापारी उत्साहित हैं. कारोबार के लिहाज से वर्ष 2016 और 2017 दोनों अच्छे थे. वह बताते हैं कि आपदा के बाद अब यात्रा पूरी तरह से पटरी पर लौट रही है. मटुड़ा के अनुसार इस बार गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में रिकार्ड तीर्थ यात्रियों के पहुंचने की उम्मीद है. बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह भी कहते हैं कि इस बार बदरीनाथ में भी होटल और धर्मशालाओं की एडवांस बुकिंग काफी ज्यादा है. वह बताते हैं कि करीब डेढ़ माह के तक के लिए ज्यादातर होटल और धर्मशालाओं में अस्सी फीसद बुकिंग है.

चारधाम यात्रा को आज से पंजीकरण

HARIDWAR: चारधाम यात्रा पर जाने वाले तीर्थयात्रियों का पंजीकरण मंगलवार से हरिद्वार में शुरू हो जाएगा. इसके लिए रेलवे स्टेशन और जिला पर्यटन विकास कार्यालय पर तीन फोटोमीट्रिक कंप्यूटर लगेंगे. चारधाम यात्रा में तीर्थयात्रियों की सहूलियत के लिए जिलाधिकारी दीपक रावत की अध्यक्षता में सीसीआर सभागार में मंगलवार को बैठक होगी. चारधाम यात्रा में जाने वाले तीर्थयात्रियों के पंजीकरण के लिए हरिद्वार में मंगलवार से काउंटर खुल जाएंगे. सुबह सात बजे से हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर दो काउंटर और जिला पर्यटन विकास कार्यालय पर एक काउंटर लगाकर यात्रियों का पंजीकरण होगा. जिला पर्यटन विकास अधिकारी जसपाल चौहान ने बताया कि 18 अप्रैल को गंगोत्री धाम के कपाट खुलने से एक दिन पहले हरिद्वार में तीन फोटोमीट्रिक काउंटर के माध्यम से पंजीकरण शुरू होगा. इन काउंटरों पर देशी-विदेशी सभी तीर्थयात्रियों का पंजीकरण निशुल्क होगा.

National News inextlive from India News Desk