गूगल ने आपके प्‍लेस्‍टोर से उड़ाईं 500 से ज्‍यादा ऐप्‍स, क्‍योंकि वो बनने वाली थीं सबसे बड़ी जासूस

By: Inextlive | Publish Date: Sat 26-Aug-2017 04:41:05
A- A+
गूगल ने आपके प्‍लेस्‍टोर से उड़ाईं 500 से ज्‍यादा ऐप्‍स, क्‍योंकि वो बनने वाली थीं सबसे बड़ी जासूस
एंड्राएड फोन यूजर्स के लिए प्‍लेस्‍टोर किसी जन्‍नत से कम नहीं है, जहां जो मांगों वो ऐप मिलती है, वो भी मुफ्त में। फिलहाल तमाम एंड्राएड यूजर्स को झटका देते हुए गूगल से प्‍लेस्‍टोर से 500 से अधिक स्‍पाइंग ऐप्‍स्‍ को उड़ा दिया। वजह यह है कि वो यूजर्स की धुंआधार जासूसी कर रही थीं, और बेखबर यूजर्स बिना यह जाने मजे से उनका यूज कर रहे थे।

कौन कौन सी ऐप हटाईं
रिपोर्ट्स के मुताबिक गूगल ने तमाम पॉपुलर एंड्राएड ऐप्‍स डेवलपर्स को झटका देते हुए उनकी ऐप्‍स को प्‍ले स्‍टोर से उड़ा दिया है। हालांकि इस झटके से करोड़ो मोबाइल यूजर्स भी प्रभावित होने वाले हैं, जो इन ऐप्‍स के मजे ले रहे थे। आपको बता दें कि गूगल ने जिन 500 से अधिक ऐप्‍स को प्‍लेस्‍टोर से रिमूव किया है, उनमें से ज्‍यादा ऐप्‍स टीनऐजर और बच्‍चों के वीडियो गेम्‍स, ऑनलाइन रेडियो, फोटो एडिटिंग, ऐजूकेशन, हेल्‍थ, होम वीडियो कैमरा ऐप और मौसम की जानकारी वाली ऐप्‍स हैं। यानि कि फिलहाल अब तमाम यूजर्स इन ऐप को यूज नहीं कर पाएंगे।

 

स्‍पाईवेयर से पर्सनल डेटा हो सकता है लीक
अमेरिकन सायबर सेक्‍योरिटी फर्म लुकआउट ने रिसेंटली यह बात खोजकर निकाली थी कि प्‍लेस्‍टोर पर मौजूद 500 से ज्‍यादा ऐप्‍स पूरी दुनिया के मोबाइल फोन्‍स में स्‍पाईवेयर पहुंचा सकती हैं। इन ऐप्‍स में तमाम ऐसी खामिया मौजूद थीं, जो स्‍पाईवेयर की मददगार बन रही थीं। फर्म द्वारा समय रहते गूगल को बताया गया। इसके तुंरत बाद गूगल ने इन ऐप्‍स को प्‍लेस्‍टोर से हटाने का फैसला किया। अगर गूगल ऐसा न करता तो लाखों करोंडों एंड्राएड यूजर्स के फोन से तमाम पर्सनल डेटा चोरी हो सकता था।


आपका स्‍मार्ट फोन गिर जाए या हो जाए चोरी तो उसे खोजने का ये है बेस्‍ट तरीका

इन ऐप्‍स से हो सकता था रैन्‍समवेयर जैसा खतरा
हाल ही में रैन्‍समवेयर सॉफ्टवेयर ने पूरी दुनिया में लाखों कंप्‍यूटर्स पर कब्‍जा कर उन्‍हें लॉक कर दिया था। फिर उसे ठीक करने के लिए पैसा मांगा था। इन ऐप्‍स से आने वाले स्‍पाईवेयर भी आपके फोन के साथ कुछ ऐसा ही कर सकते थे, तभी गूगल ने इन्‍हें उड़ा दिया। साइबर सेक्‍योरिटी फर्म ने खुलासा किया कि हर ऐप में मौजूद एडवरटाइजिंग सॉफ्टवेयर किट Igexin में कुछ ऐसी गड़बड़ी आ गई थी, जिस कारण से ऐप्‍स किसी बाहरी अनजान सर्वर को डेटा ट्रांसफर कर रही थीं।


ये टॉप 5 एंटीवायरस आपके स्‍मार्टफोन के लिए हैं रामबाण, यानि वायरस का बाप भी नहीं बचेगा


बड़े काम के हैं स्‍मार्टफोन के ये 4 सीक्रेट कोड

Technology News inextlive from Technology News Desk