1 . 116 देशों की यात्रा की है बिना पासपोर्ट के
ये बात बिल्‍कुल सच है कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय अब तक करीब 116 देशों की यात्रा कर चुकी हैं। इसमें से 96 दौरे अधिकारिक थे। इन दौरों पर वह अपने साथ 261 अधिकारियों को विदेशी दौरे पर ले जा चुकी हैं। ऐसे में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय भले ही अब तक 116 देशों की यात्रा कर चुकी हों पर उनके पास अब तक अपना पासपोर्ट नहीं है।

2 . दो बार मनता है इनका जन्‍मदिन
महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के दो जन्मदिन हैं। उनका वास्तविक जन्म 21 अप्रैल 1926 को है, लेकिन वह अपना जन्मदिन जून के महीने में मनाती है। इसके पीछे कारण ये है कि हर कॉमनवेल्‍थ कंट्री पारंपरिक तौर पर मई या जून में इनका जन्‍मदिन धूमधाम के साथ मनाते हैं। ज्‍यादातर ये होता है कि ये जून महीने के पहले, दूसरे या तीसरे शनिवार को मनाया जाता है।

पढ़ें इसे भी : मॉल में बिल के लिए लाइन लगाने की झंझट होगी खत्‍म, यह नन्‍हा रोबोट सेकेंडों में कर देगा कमाल

3 . महारानी एलिजाबेथ ने चलाया ट्रक
एलिजाबेथ उस समय सिर्फ 18 साल की थीं जब इन्‍होंने सेकेंड वर्ल्‍ड वॉर के दौरान महिलाओं की सहायक प्रादेशिक सेवा (Auxiliary Territorial Service) को ज्‍वाइन किया था। इसके तहत इनको लंदन में मिलेट्री ट्रक ड्राइवर और मैकेनिक बनने की ट्रेनिंग दी गई। आपको बता दें कि पूरे शाही परिवार में वह इकलौती ऐसी महिला सदस्‍य रहीं, जिन्‍होंने आर्म्‍ड फोर्स को ज्‍वाइन किया। ये वक्‍त द्वितीय विश्‍व युद्ध का था। इसी दौरान इन्‍होंने ट्रक चलाया।

महारानी एलिजाबेथ के पास नहीं है पासपोर्ट,जानें उनके बारे में ऐसे ही अनजान तथ्‍य

4 . राश्‍ान कूपन से खरीदा था वेडिंग गाउन
महारानी एलिजाबेथ ने 20 नवंबर 1947 को अपने तीसरे कजिन फिलिप माउंटबेटेन से शादी की। बता दें कि फिलिप माउंटबेटेन ग्रीस और डेनमार्क के पूर्व प्रिंस थे। आपको जानकर ताज्‍जुब होगा कि इतनी बड़ी महारानी को अपना शादी का जोड़ा राशन के कूपन से खरीदना पड़ा था। दरअसल वर्ल्ड वार टू के खत्म होने के तुरंत बाद इनकी शादी हुई। इसके चलते शादी में खर्च काफी सीमित ही करना था। इसको ध्‍यान में रखते हुए इन्‍होंने अपनी शादी में आइवरी साटन गाउन पहना था। इसको डिजाइन किया था नॉर्मन हार्टनैल ने। इस गाउन में दस हजार सफेद मोती जड़े गए थे। एलिजाबेथ और फिलिप की शादी की अगर प्रिंस चार्ल्स और लेडी डायना की शादी से तुलना की जाए तो दोनों की शादी के खर्चे में काफी अंतर था।

पढ़ें इसे भी : भील युवकों ने लिखा पीएम को खत कहा हमारे पास है पत्‍थरबाजों का इलाज

5 . नहीं अपनाया पति का नाम
महारानी एलिजाबेथ ने फिलिप माउंटबेटेन के साथ शादी की। शादी तो इनकी हुई, लेकिन मां के नाम से ही महारानी बनने और चंद अन्‍य कारणों से इन्‍होंने अपने पति का नाम अपने नाम के साथ नहीं जोड़ा। कुल मिलाकर एलिजाबेथ द्वितीय ने शादी के बाद अपने पति का नाम नही अपनाया था।
महारानी एलिजाबेथ के पास नहीं है पासपोर्ट,जानें उनके बारे में ऐसे ही अनजान तथ्‍य

6 . सबसे पहले किया था ई-मेल
बतौर राष्‍ट्राध्‍यक्ष महारानी एलिजाबेथ ने सबसे पहले ई-मेल का इस्तेमाल किया था। 26 मार्च, 1976 को एलिजाबेथ ने अपना पहला ई-मेल भेजा था। तब ई-मेल का चलन शुरू ही हुआ था। इन्‍होंने ये ई-मेल इंग्लैंड के मलवर्न रॉयल सिग्नल एंड रडार एस्टैबलिशमेंट सेंटर में नेटवर्क टेक्नोलॉजी डेमॉनट्रेशन के दौरान भेजा था।

पढ़ें इसे भी : ये हैं दुनिया की मोस्‍ट डिमांडिंग जॉब, चाहिए निश्‍चित नौकरी तो इन्‍हें चुनें करियर

7 . 17 साल के युवा ने कर दी थी फायर
13 जून, 1981 को बकिंघम पैलेस में महारानी एलिजाबेथ के जन्‍मदिन समरोह पर आयोजित परेड के दौरान एक 17 साल के युवा ने इनको गोली मारी थी। परेड के दौरान महारानी घोड़े के सवारी कर रही थीं। इस युवा ने महारानी की ओर छह खाली फायर दागे। मौके पर पुलिस ने उसको पकड़ लिया। उसके बाद तीन साल के लिए हमलावर को मनोचिकित्‍सकों के संरक्षण में चलने वाली जेल में रखा गया।

8 . बकिंघम पैलेस में कर चुकी हैं मेजबानी भी
महारानी एलिजाबेथ अंतरिक्ष की सैर करने वाले नील आर्मस्ट्रांग माइकल कोलिंस और एडविन एल्ड्रिन और अंतरिक्ष की पहली महिला वेलेंटीना तेरेश्कोवा, यूरी गागरिन के साथ मुलाकात के लिए बकिंघम पैलेस में मेजबानी भी कर चुकी हैं।

Interesting News inextlive from Interesting News Desk

Interesting News inextlive from Interesting News Desk