1. ज़िप लॉक पाउच को हमेशा रखे साथ :
अपने फोन को भीगने से बचाने का सबसे सस्‍ता और टिकाउ तरीका है ये। बारिश के मौसम में सड़को पर बिकते है यह ज़िप लाक पाउचेस। यह प्‍लास्‍टिक बैग से भी ज्‍यादा सेफ होते हैं। इनकी एक खास बात और है। आप अपना फोन इसके अंदर से भी यूज कर सकते हैं।

इन पांच तरीकों से बनाएं अपने फोन को मानसून प्रूफ
2. वाटरप्रूफ कवर या वाटरप्रूफ बैग :
सबसे सेफ तरीका है एक वाटरप्रूफ कवर बनवाना। ये आपके फोन के हिसाब से बनता है और हर तरफ से आपके फोन को पानी से बचाता है। ये कवर हर फोन के लिए नहीं बनता। इसलिए मानसून में ध्‍यान रखे जो बैग आप लेकर चल रहे हैं वो वाटरप्रूफ हो।

इन पांच तरीकों से बनाएं अपने फोन को मानसून प्रूफ
3. जरूरत ना हो तो फोन को करें अवाइड :
बारिश में चलते वक्‍त अपने फोन का इस्‍तेमाल जितना हो सके उतना कम करें। मैसेजिंग और ब्राउजिंग करने पर आपकी उंगलियों के टच से फोन के गीले होने के आसार है। हल्‍की सी भी नमी अपके फोन को कर सकती है डैमेज।

इन पांच तरीकों से बनाएं अपने फोन को मानसून प्रूफ
4. हेडफोन या ब्‍लूटूथ डिवाइस करे यूज :
कॉल करने या उठाने के लिए हेडसेट या ब्‍लूटूथ यूज करें। इससे आपका फोन आपकी जेब में सुरक्षित रहेगा। ब्‍लूटूथ और इयरफोन भी बारिश में भीग कर खराब हो सकते हैं। मगर नये फोन के खर्चे से बेहतर है नए हेडसेट लेना। इयरफोन्‍स आज-कल काफी सस्‍ते और अलग वैराइटी में मिल जाते हैं।

इन पांच तरीकों से बनाएं अपने फोन को मानसून प्रूफ
5. वाटरप्रूफ फोन ही खरीदें :
बाजार में अब ज्‍यादातर मोबाइल वाटरप्रूफ आने लगे हैं। मुम्बई जैसे शहरों में जहां कभी भी बारिश हो सकती है वहां रहने वाले लोगों के लिए वाटरप्रूफ फोन ही सही रहते हैं। कुछ फोन होते वाटरप्रूफ है मगर पूरी तरह प्रोटेक्‍शन नहीं देते। तो जरूरी है आप उपर बताई गई बातों का ध्‍यान रखें।

इन पांच तरीकों से बनाएं अपने फोन को मानसून प्रूफ



Technology News inextlive from Technology News Desk

Technology News inextlive from Technology News Desk