पुलिस की तरह कर सकता है पूछताछ
स्‍मार्ट पुलिसिंग के तहत लांचिंग में बताया गया कि यह पुलिस रोबोट आम इंसानी पुलिस की तरह घूम सकता है। लोगों को पहचान सकता है। उनसे शिकायतें ले सकता है। बम का पता लगा सकता है। संदिग्‍धों की शिनाख्‍त कर सकता है। लोगों से बातचीत कर सकता है। लोगों के सवालों का जवाब दे सकता है।
स्‍मार्ट पुलिसिंग : हैदराबाद में लांच देश का पहला रोबोकॉप,इंसानों से बात करेगा और संदिग्‍धों को धर दबोचेगा

स्मार्ट पुलिसिंग से निखरेगा खाकी चेहरा

खुद घूम कर जुटा सकेगा रीयल टाइम डाटा
दावा किया गया है कि यह खुद हालात का जायजा लेने में सक्षम है। आसपास के वातावरण को समझ सकता है और रीयल टाइम डाटा एकत्र कर सकता है। विसंगतियों का बखूबी पता लगा सकता है। इसमें इस्‍तेमाल की गई टेक्‍नोलॉजी, कैमरा, सेंसर और सुरक्षा की लागत सामान्‍य या यह कह सकते हैं कि इसकी निरंतर बिना रुके सेवाओं को देखते हुए बहुत कम है।
स्‍मार्ट पुलिसिंग : हैदराबाद में लांच देश का पहला रोबोकॉप,इंसानों से बात करेगा और संदिग्‍धों को धर दबोचेगा

अब गूगल के जरिए पकड़ेंगे अपराधी

पब्लिक प्‍लेस की सुरक्षा में लगेंगे रोबोकॉप
बताया गया कि इन रोबोकॉप को पब्लिक प्‍लेस की सुरक्षा को ध्‍यान में रखकर तैयार किया गया है। ये रोबोकॉप सिग्‍नल पोस्‍ट, मॉल, एयरपोर्ट, कार्यालयों, सार्वजनिक क्षेत्र की इमारतों की सुरक्षा करने में पूरी तरह सक्षम होंगे। इनकी आंखें 360 डिग्री पर सर्विलांस के लिए हमेशा बनाई गई हैं। ये आंखें संदिग्‍धों की पहचान, आसानी से कर सकेंगीं। भीतर छिपा कर लाई जा रहीं मेटल की चीजों का पता कर सकेंगी। तापमान को अनुभव कर सकेंगी और चेहरों की पहचान कर चोरी रोकने में सक्षम होंगीं। भविष्‍य में लॉ एंड ऑर्डर मेंटेन करने के लिए इनकी हर जगह तैनाती की जा सकती है। जैसे ट्रैफिक और एंटी ईव टीजिंग टीम में। एक रोबोट की कीमत करीब पांच लाख रुपये है। ये 5 फुट लंबे और लगभग 43 किलोग्राम वजनी हैं।
स्‍मार्ट पुलिसिंग : हैदराबाद में लांच देश का पहला रोबोकॉप,इंसानों से बात करेगा और संदिग्‍धों को धर दबोचेगा

मोदी बोले सबसे ज्‍यादा तनाव में रहते हैं पुलिस वाले, द‍िया स्‍मार्ट बनने का मंत्र

National News inextlive from India News Desk