1 मिलीमीटर आकार का है ये कंप्‍यूटर

इसी महीने IBM कंपनी Think 2018 conference करने जा रही है, जिसमें वो अपना बनाया दुनिया का सबसे छोटा कंप्‍यूटर डिसप्‍ले करने जा रहा है। बता दें कि यह कंप्‍यूटर यानि CPU आकार के मामले में नमक के दाने जितना बड़ा है। यह आकार में 1 मिलीमीटर लंबा और 1 मिलीमीटर चौड़ा है। यहीं नहीं इसे बनाने की लागत भी कुछ अमेरिकी Cent यानि 10 रुपए से भी कम है। साल 2015 में बना अब तक का सबसे छोटा कंप्‍यूटर Michigan Micro Mote 2 x 2 मिलीमीटर आकार का था, जबकि यह नन्‍हां कंप्‍यूटर आकार में उससे भी आधा है। कंपनी का दावा है कि उनका यह नन्‍हां सा कंप्‍यूटर आने वाले 5 सालों में हमारी जिंदगी को पूरी तरह से बदलकर रख देगा। इस नन्‍हें से कंप्‍यूटर को देखकर अगर आप सोच रहे हैं कि इतना छोटा सा कंप्‍यूटर भला कौन सा काम कर पाएगा। तो जरा आगे इस कंप्‍यूटर के दमदार स्‍टेमिना और परफॉर्मेंस पर नजर डालिए।

ibm ने बनाया नमक के दाने जितना बड़ा कंप्यूटर,जानिए इस नन्‍हें कंप्‍यूटर की बेमिसाल ताकत


इस टीचर ने बिना कंप्‍यूटर के ही ऐसे पढ़ा डाला microsoft word, कि दुनिया देखती रह गई

दुनिया के सबसे छोटे कंप्‍यूटर में है सुपर पावर

आपको बता दें कि IBM द्वारा बनाए गए इस सबसे छोटे में लगे हैं हजारों ट्रांजिस्‍टर्स। इसके अलावा इस कंप्‍यूटर में इंटर्नल मेमोरी, पावर बैटरी, x86 chip, 386 पावर्ड processor, 4 एमबी रैम, LED बेस्‍ड एक कम्‍यूनीकेशन यूनिट और फोटो डिटेक्‍टर। इतने छोटे से कंप्‍यूटर में इतने सारी डिजिटल डिवायसेस फिट होने के कारण यह कंप्‍यूटर वाकई कमाल की परफॉर्मेंस दे सकता है, वो भी बिना किसी की नजरों में आए हुए। इस कंप्‍यूटर को बनाने के साथ ही IBM उम्‍मीद कर रहा है कि आने वाले 5 सालों में वो इस कंप्‍यूटर को और भी अधिक छोटा और पावरफुज बना देगा। कंपनी को उम्‍मीद है कि वो आने वाले समय में 1 पिक्‍सल डिसप्‍ले के बराबर की LED चिप कंप्‍यूटर बना सकेंगे।

सावधान! हमारा वाट्सऐप है चाइनीज हैकर्स के निशाने पर? इंडियन आर्मी ने बताए बचाव के ये 5 तरीके

सप्‍लाई चेन मैनेजमेंट, सेक्‍योरिटी फीचर्स और ब्‍लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी के लिए कमाल करेगा ये नन्‍हा कंप्‍यूटर

IBM का कहना है कि इस नन्‍हें से कंप्‍यूटर को डेवलप करके कंपनी आने वाले समय में बिना चोरी वाली सप्‍लाई चेन मैनेजमेंट को विकसित कर पाएगी। कंपनी के मुताबिक इस छोटे से कंप्‍यूटर को तमाम छोटे बडे प्रोडक्‍ट्स पर आसानी से चिपकाया जा सकेगा और बिना किसी की नजरों में आए ये कंप्‍यूटर बताता रहेगा कि कौन सा प्रोडक्‍ट सही जगह पर नहीं पहुंचा या फिर उसे कहां से चोरी कर लिया गया। फिलहाल इस बात जानकारी अब तक नहीं है कि कंपनी ने अपने इस नए सबसे छोटे कंप्‍यूटर को क्‍या नाम दिया है और इस्‍तेमाल के लिए यह कंप्‍यूटर आम लोगों को कब तक मिलेगा।


माइक्रोसॉफ्ट के आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस ने किया कमाल, चीनी भाषा का अंग्रेजी में किया सटीक अनुवाद

Technology News inextlive from Technology News Desk