1 . अश्‍विन नहीं दिखा पाए कमाल
इंडिया टीम और इसके फैन्‍स को अपने स्‍पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्‍विन से बड़ी उम्‍मींदें थीं। आम मैचों की बात करें तो वह एक अहम गेंदबाज के तौर पर टीम की जीत में अपना योगदान देते हैं। इसके बावजूद इस मैच में उनका कमाल नजर नहीं आया। दोनों ही पारियों में उन्‍होंने सिर्फ 1-1 विकेट ही लिए। आखिरी दिन भी टीम को अश्‍विन से उम्‍मींद थी, लेकिन उम्‍मींदों का क्‍या। वो तो जरा से में भी टूट सकती हैं। हुआ भी कुछ ऐसा ही। अश्‍विन ने सभी की उम्‍मींदों पर पानी फेर दिया।

2 . हैंड्सकोंब और मार्श ने कर दिया कमाल
मैच में एक ऐसा मोड़ भी आया जब टीम ऑस्‍ट्रेलिया के सिर्फ 63 रनों पर 4 विकेट गिर गए। इस विकेट में कप्‍तान स्‍टीवन स्‍मिथ भी शामिल थे। इनके आउट होते ही ऐसा लगा कि अब तो मैच इंडिया के हक में ही है। इसके बावजूद इनके बाद फील्‍ड पर उतरी हैंड्सकोंब और मार्श की जोड़ी ने पूरा मैच पलटकर रख दिया। दोनों की साझेदारी ने 124 रनों का स्‍कोर खड़ा कर दिया।

पढ़ें इसे भी : जानिए भारतीय टेस्‍ट क्रिकेट के इतिहास में किसने बनाई पहली सेंचुरी, लगाया दोहरा व तिहरा शतक

india vs australia : कोहली और अश्‍विन की खामियां बनीं मैच ड्रॉ का बड़ा कारण

3 . विराट का बैड डिसीजन
याद हो तो मैच के शुरू होने से पहले ही पिच क्‍यूरेटर ने ये बात बोल दी थी कि पांचवे दिन शुरू के ओवर्स में स्‍पिन गेंदबाजों को मदद मिलेगी। उनका कहना सही भी निकला। पहले ही सेशन में रविंद्र जडेजा ने 2 विकेट जरूर लपके, लेकिन यहां विराट कोहली ने एक गलत फैसला लिया और चौपट हो गया। विराट ने जडेजा का साथ देने वाले रविचंद्रन अश्‍विन को बॉलिंग नहीं करने दी।

पढ़ें इसे भी : रांची टेस्‍ट में गेंदबाजों को थकाने वाले पुजारा रियल लाइफ में हैं काफी कूल, देखें तस्‍वीरें

india vs australia : कोहली और अश्‍विन की खामियां बनीं मैच ड्रॉ का बड़ा कारण

4 . देर में घोषित की पारी
ऑस्‍ट्रेलिया की ओर से पहली पारी में बनाए गए 453 रनों के जवाब में टीम इंडिया ने 603 रन बनाए। यहां पूरी तरह से साफ है इंडिया की ओर से बनाए गए 603 रन काफी स्‍लो एवरेज पर बने। इतना स्‍कोर खड़ा करने के लिए टीम इंडिया ने 210 ओवरों का समय लिया। अब ऐसे में अगर भारत 603 रन से पहले ही अपनी पारी को घोषित कर देता और ऑस्‍ट्रेलिया को मैच के चौथे दिन के तीसरे सेशन में बैटिंग के लिए कहता तो टीम इंडिया का मैच ड्रॉ करना इतना आसान नहीं था।

पढ़ें इसे भी : OMG! जीत की खुशी में ये क्‍या बोल गए मनोज तिवारी धोनी के बारे में

5 . कोहली हुए आउट ऑफ फॉर्म
अब तक की सीरीज के तीनों मैचों में विराट पूरी तरह से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे थे। तीसरे मैच की पहली पारी में ही वह कुछ बेहतर नहीं कर पाए थे। सिर्फ 6 रन बनाकर वह बैक टू पवेलियन हो गए थे। दूसरी पारी में वह 13 रन बनाकर आउट हो गए। वहीं बंगलुरू टेस्‍ट की पहली पारी में 12 और दूसरी पारी में उन्‍होंने सिर्फ 15 रन ही बनाए।
Cricket News inextlive from Cricket News Desk

Cricket News inextlive from Cricket News Desk