सक्सेसफुल होने के लिए प्रॉपर गाइडेंस जरूरी
स्टूडेंट्स को सक्सेसफुल होने के लिए सही एज में प्रॉपर गाइडेंस व ट्रेनिंग देनी जरूरी है, लेकिन ऐसा तभी संभव होगा जब आपको उनके टैलेंट और पैशन के बारे में पता हो। स्टूडेंट के अंदर मौजूद इन्हीं एबिलिटीज को जानने के लिए हॉवर्ड ग्रेजुएट स्कूल ऑफ एजुकेशन के प्रोफेसर हॉवर्ड गार्डनर ने मल्टीपल इंटेलिजेंस थ्योरी डेवलप की थी। आज कई इंटरनेशनल इंटेलिजेंस टेस्ट्स इस थ्योरी पर बेस्ड इंटेलिजेंस एग्जाम्स कंडक्ट कराते हैं, लेकिन दैनिक जागरण आईनेक्स्ट इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट अपने यूनीक काउंसिलिंग सेग्मेंट और रीजनेबल रेट्स के कारण इन सबसे अलग है।

काउंसिलिंग सेशन है खास  
इस टेस्ट में क्लास 5 से लेकर क्लास 12 तक के स्टूडेंट्स अपियर हो सकते हैं। आईआईटी एग्जाम की खास बात यह है कि इसमें बच्चों को सिर्फ उनका रिजल्ट ही नहीं बताया जाता, बल्कि रिजल्ट के मुताबिक एक्सपट्र्स उनकी काउंसिलिंग भी करते हैं। काउंसिलिंग सेशन के दौरान स्टूडेंट्स करियर और सब्जेक्ट्स के प्रति अपने डाउट्स और कन्फ्यूजन्स एक्सपट्र्स से क्लियर कर सकते हैं और आगे जाकर अपने लिए बेहतर डिसीजन ले सकते हैं।

एफॉर्डेबल है आईआईटी    
आमतौर पर इस तरह के इंटेलिजेंस टेस्ट्स की फीस काफी ज्यादा होती है, जबकि दैनिक जागरण-आईनेक्स्ट इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट की एप्लिकेशन फीस मात्र 250 रुपए है। ऐसा इसलिए ताकि ज्यादा से ज्यादा स्टूडेंट्स इस टेस्ट का फायदा उठा सकें और अपने लिए सही समय पर सही कॅरियर का चयन कर सकें।

National News inextlive from India News Desk

National News inextlive from India News Desk