सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाड़ी ने किया दावा
नई दिल्‍ली, (प्रेट्र)। आईपीएल के हर सीजन में गेंद और बल्‍ले से कोई न कोई रिकॉर्ड जरूर बनता है। कुछ दिनों पहले ही पंजाब के बल्‍लेबाज केएल राहुल ने फॉस्‍टेस्‍ट फिफ्टी लगाकर आईपीएल 11 को और रोमांचक बना दिया है। मगर उनका यह रिकॉर्ड कितने दिन तक सुरक्षित रहेगा यह कह पाना मुश्‍किल है। क्‍योंकि सनराइजर्स हैदराबाद के एक खिलाड़ी ने दावा किया है कि अगर उसको बल्‍लेबाजी का मौका मिला तो वह आईपीएल इतिहास की सबसे तेज हॉफसेंचुरी जड़ देगा। यह खिलाड़ी कोई और नहीं बल्‍िक अफगानिस्‍तान के ऑलराउंडर मोहम्‍मद नबी हैं, जिनका पिछले एक साल में प्रदर्शन काफी अच्‍छा रहा है। यही वजह है कि सनराइजर्स हैदराबाद ने नबी को अपनी टीम में शामिल किया है। 33 साल के नबी गेंद और बल्‍ले दोनों से अच्‍छा प्रदर्शन करने के लिए जाने जाते हैं।

काफी होनहार ऑलराउंर है यह खिलाड़ी

दांए हाथ के बल्‍लेबाज नबी का कहना है कि, 'इस सीजन उनकी टीम सनराइजर्स हैदराबाद से सभी को काफी उम्‍मीदें हैं। हमें केन विलियमसन के रूप में नया कप्‍तान मिला है जोकि खुद पिछले कुछ सालों से हैदराबाद की टीम का हिस्‍सा रहे हैं। हालांकि मैं अपने खेल पर ज्‍यादा ध्‍यान दे रहा अगर मुझे मौका मिलता है तो मैं बैटिंग और बॉलिंग दोनों में अच्‍छा परफॉर्म करना चाहूंगा'। आपको बता दें कि सोमवार को सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्‍थान रॉयल्‍स के बीच हुए मुकाबले में मोहम्‍मद नबी प्‍लेइंग इलेवन का हिस्‍सा नहीं थे।
ipl 11 में सबसे तेज हॉफसेंचुरी मारने का दावा करने वाला कौन है ये खिलाड़ी
अंतर्रराष्‍ट्रीय क्रिकेट में ठोंक चुका है फॉस्‍टेस्‍ट फिफ्टी

नबी कितने उपयोगी खिलाड़ी साबित हो सकते हैं। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि अंतर्रराष्‍ट्रीय क्रिकेट में अफगानिस्‍तान की तरफ से नबी ने टी-20 इंटरनेशनल की सबसे तेज हॉफसेंचुरी लगाई थी। नबी ने 21 गेंदों मे अपना पचासा पूरा किया था। नबी ने यह पारी ऑयरलैंड के विरुद्ध खेली थी जिसमें उन्‍होंने 30 गेंदों में 89 रन ठोंके थे। अब जब नबी आईपीएल 11 का हिस्‍सा बने हैं तो वह यह करिश्‍मा यहां भी दोहराना चाहते हैं। नबी का कहना है कि, 'मैं यहां अपना सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करना चाहता हूं। अगर मुझे बल्‍लेबाजी का मौका मिलता है तो आईपीएल इतिहास की सबसे तेज हॉफसेंचुरी लगा दूंगा।'

अफगानिस्‍तान क्रिकेट का भविष्‍य
इस अफगानी खिलाड़ी की मानें तो, आईपीएल की वजह से उनके देश के खिलाड़ियों के प्रदर्शन में काफी सुधार आया है। पिछले साल जहां सिर्फ दो अफगान खिलाड़ी इस लीग का हिस्‍सा थे। वहीं अब इस सीजन में अफगानिस्‍तान के चार खिलाड़ी खेल रहे हैं। नबी को उम्‍मीद है कि आने वाले सालों में यह संख्‍या 4 से 6 फिर 8 तक पहुंच सकती है। नबी ने आगे कहा कि, हम जब आईपीएल खेलकर वापस अपने घर जाएंगे तो हमारा कांफिडेंस लेवल काफी ऊंचा होगा। आईपीएल में हम दुनिया भर के दिग्‍गज खिलाड़ियों का सामना करते हैं जोकि युवा अफगानी क्रिकेटरों के लिए किसी सुनहरे अवसर से कम नहीं है।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk