बेटे की मौत के बाद छोड़ा देश
महमूद अमीन ने बताया कि माइनारिटी मुस्लिम उजहर का एक सदस्‍य बनना है शिनजेंग शहर से है। यह एक आटोनोमस आतंकी संगठन है जो नार्थ वेस्‍ट चाइना में तुर्किस्‍तान के नाम से जाना जाता है। अभी आईएसआईएस इराक में फलूजा को मजबूत करने के लिए लड़ रहा है। अमीन ने बताया कि सीरिया में अपने जेहादी बेटे की मौत का वीडियो देखने के बाद उसने अपना घर और देश छोड़ दिया है। इस तस्‍वीर में एक बूड़ा आदमी किसी अनजान व्‍यक्ति के साथ हाथ में गन लिए कैमरे के सामने पोज कर रहा है। आईएसआईएस ने अपने इस फाइटर को लॉन्‍च किया है। इराकी फोर्स की ओर से काउंटर अटैक किए जाने के बाद वह फलूजा पर और भी एडवांस हो गए हैं।

75 जेहादी काउंटर अटैक में मारे गए
खबरों की माने तो इराकी आर्मी के काउंटर अटैक में 75 से ज्‍यादा आईएसआईएस के जेहादी मारे गए हैं। यह हमला शहर के अंदर हुआ जहां पर 100 जवान आदमियों ने फाइटर्स के साथ जंग लड़ी। आमीन की जो तस्‍वीर रिलीज की गई है वह आईएस के लड़कों का उत्‍साह बड़ाने के लिए की गई है। इराकी आर्मी द्वारा हमले के बाद जेहादियों के हौसले टूट रहे थे। जिसके बाद इस बूड़े फाइटर की तस्‍वीर रिलीज की गई। पिछले साल एक वीडियो प्रोपागैंडा की तरह रिलीज किया गया था जिसमे अमीन को तुर्किस्‍तान में पिछले 60 सालों का बदला लेने के लिए तैनात किया गया है।

2015 में हुआ था एक वीडियो रिलीज
वीडियो में एके 47 के साथ फाइटर को खड़ा किया गया है। उस वीडियो में वह एक बड़ी संख्‍या को कंट्रोल करते हुए दिख रहा है। उस वीडियो में बड़ी संख्‍या में जेहादी मौजूद हैं। जो लड़कों की तरह कपड़े पहने हुए हैं। उसने बताया कि वह लड़ाकों को ट्रेंड कर रहा है। वर्तमान में उसने लड़ना बंद कर दिया है। उसने बताया कि वह एक मुस्लिम स्‍टेट से आया है। उसने बताया कि वह एक ट्रेनिंग कैंप में अपनी जिंदगी के बाकी दिन बिताएगा। वहां वह लड़ाकों को तैयार करेगा। उन्‍हें लड़ने के गुर सिखाएगा।

सीरिया में फिल्‍माया गया है वीडियो
वीडियो को देख कर ऐसा लग रहा है कि वह सीरिया में फिल्‍माया गया है। वीडियो के कई सीन्‍स को कट भी किया गया है। वीडियो के एक सीन में एक टेरर ग्रुप बच्‍चो के स्‍कूल में खडा हुआ है। जहां बच्‍चे क्‍लासरूम में बैठे दखि रहे हैं। बच्‍चों ने आईएसआईएस के लोगो वाली टोपी पहन रखी है। 2015 में चीनी अफसरों ने कहा था कि शिनजेंग शहर से कुछ मुस्लिम लोग सीरिया की यात्रा कर रहे हैं। वह आईएसआईएस को ज्‍वाइन करना चाहते हैं। घर लौटने से पहले उन्‍हें कम्‍यूनिस्‍ट रूल के खिलाफ काम करना होगा। वेर्स्‍टन रीजन की अर्थरिटी ने कहा कि वह आतंकी संगठनों और आतंक को खदेड़ देना चाहते हैं। वह माइनॉरिटी मुस्लिम उजहर को भी खत्‍म करना चाहते हैं। क्‍योकि उसमे से कुछ जेहादी अपने स्‍वतंत्र राज्‍य बनाना चाहते हैं।

International News inextlive from World News Desk