PATNA: नाबालिग से रेप के आरोपी राजद विधायक राजवल्लभ यादव को बिहारशरीफ मंडल कारा में नानवेज पार्टी देने वाले जेल अधीक्षक मोतीलाल को सरकार ने समय से पहले रिटायर कर दिया है. आरोप भ्रष्टाचार और अपराधियों से सांठ-गांठ का लगा है जिसके लिए जीरो टॉलरेंस नीति के तहत कार्रवाई की गई है. इससे पूर्व जेल के तत्कालीन सहायक अधीक्षक रामनंदन पंडित और दो कक्षपाल रामलखन यादव और रमेश कुमार को भी सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है.

- जेल आईजी बोले, अपराध नहीं होगा माफ

जेल आइजी आनंद किशोर ने बताया कि जेल अधीक्षक मोतीलाल को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दिए जाने के संबंध में सीएम नीतीश कुमार का अनुमोदन मिल गया है, जिसपर आदेश जारी कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि मोतीलाल को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने के संबंध में बिहार लोक सेवा आयोग से पहले ही सहमति प्राप्त हो चुकी है.

- एक नजर में मामला

वर्ष ख्0क्म् से राजवल्लभ यादव बिहारशरीफ मंडल कारा में बंद है. उन्होंने होली के दौरान उपरोक्त जेल अधिकारियों को मैनेज करके कैदियों के लिए मटन पार्टी दी थी. इसके लिए बाहर से बावर्ची जेल में बुलाए गए थे और बिना जेल प्रशासन की अनुमति के ही जेल में जश्न मनाया गया था. इस मामले में नालंदा के डीडीसी कुंदन कुमार ने जांच की जिसमें मामला सही पाया गया. फिर कार्रवाई की गई. चूंकि जेल अधीक्षक का पद राजपत्रित होता है इसलिए कार्रवाई की प्रक्रिया पूरी करने में समय लगा. मोतीलाल की सेवा अभी महज नौ साल की हुई है.