दुबई में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी

By: Inextlive | Publish Date: Tue 14-Nov-2017 04:40:28   |  Modified Date: Tue 14-Nov-2017 04:43:28
A- A+
दुबई में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी
-विभूतिखंड स्थित टूर एंड ट्रैवेल एजेंसी ने लगाया चूना -रुपये व पासपोर्ट लेकर कम्पनी फरार, पुलिस तलाश में जुटी

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

विभूतिखंड स्थित एक टूर एंड ट्रैवेल एजेंसी ने दुबई में नौकरी दिलाने का झांसा देकर दर्जनों बेरोजगारों को लाखों का चूना लगाया. जालसाजों ने शिकार बेरोजगारों के पासपोर्ट भी अपने पास रख लिये और उन्हें फर्जी ऑफर लेटर व वीजा थमा दिया. जब टिकट देने का मौका आया तो जालसाज कंपनी दफ्तर में ताला बंद कर फरार हो गई. भुक्तभोगियों ने विभूतिखंड पुलिस से पूरे मामले की शिकायत की है. पुलिस ने चार जालसाजों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है.

 

फोन पर की थी बात

कुशीनगर निवासी जगदीश प्रसाद के मुताबिक, कुछ समय पहले उनके गांव में रहने वाले एक युवक ने राजधानी के विभूतिखंड स्थित यूनाइटेड टूर एंड ट्रैवेल एजेंसी के बारे में बताया. उसने बताया कि एजेंसी दुबई में नौकरी दिलाने का भी काम करती है. जगदीश ने कंपनी के दफ्तर में फोन पर बात की तो उसे एजेंसी से बताया गया कि दुबई में वेल्डर की नौकरी मिल सकती है. जगदीश नौकरी के लिये राजी हो गए और उन्होंने गांव के 13 अन्य बेरोजगार युवकों को इसके बारे में बताया. इसके बाद वे सभी एजेंसी के दफ्तर जा पहुंचे.

 

हर एक से वसूले 50 हजार

जगदीश ने बताया कि एजेंसी के दफ्तर पहुंचने पर उन से 10-10 हजार रुपये और पासपोर्ट जमा करा लिये गए और मेडिकल करा वापस भेज दिया. कुछ दिनों बाद जालसाजों ने नौकरी का ऑफर लेटर भी दे दिया. इसके बाद उन्हें वीजा भी भेजा गया.

 

2 नवंबर को फ्लाइट

जालसाजों ने कॉल कर बताया कि दो नवंबर को उन लोगों की फ्लाइट है, इसकी टिकट के लिये उनसे 40-40 हजार रुपये बैंक अकाउंट में जमा करा लिये. जब दो नवंबर को वे टिकट लेने एजेंसी के दफ्तर पहुंचे तो वहां ताला लटका मिला. एजेंसी संचालकों को कॉल की गई तो सभी के सेलफोन बंद मिले. अगले दिन भी एजेंसी में ताला बंद मिलने पर उन्हें ठगे जाने का अहसास हुआ. तो उन्होंने विभूतिखंड थाने में तहरीर दी. पुलिस ने एजेंसी मालिक संजय सिंह समेत चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी व अमानत में खयानत की रिपोर्ट दर्ज कर ली है.