करेली उपकेन्द्र में 16 जुलाई को जला था दस एमवीए का पावर ट्रांसफार्मर

तब से अलग-अलग इलाकों को दो-दो घंटे दी जा रही बिजली, पानी की भी हुई दिक्कत

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: करेली सब स्टेशन का दस एमवीए पॉवर ट्रांसफार्मर 16 जुलाई की सुबह 6.30 बजे जल गया. इसके बाद उपकेन्द्र से जुड़े हजारों शहरियों का सुख चैन लुट गया. रोस्टरिंग के तहत दो अन्य पॉवर ट्रांसफार्मर से बिजली की सप्लाई हो रही है, लेकिन वह भी दो-दो घंटे के अंतराल पर. रोस्टरिंग का ऐसा खौफ है कि गौसनगर, शोला मार्केट व करामत की चौकी सहित कई इलाकों में बड़े-बुजुर्ग से लेकर छोटे-छोटे बच्चे तक भोर में चार बजे उठे, इसके बाद भी उन्हें नहाने को पानी नहीं मिला. बच्चों को उमस भरी गर्मी में बिना नहाए स्कूल रवाना होना पड़ा.

इनर्वटर ने दिया जवाब

करामत की चौकी निवासी अधिवक्ता एनआई सिद्दीकी का इनवर्टर सोमवार को सुबह पांच बजे जवाब दे गया. ट्रांसफार्मर जलने से पानी भी स्टोर नहीं कर सके थे. ऐसे में बिना नहाए उन्हें हाईकोर्ट और बेटे को स्कूल जाना पड़ा. यही स्थिति करामत की चौकी के पास रहने वाले रिटायर्ड प्रिंसिपल शफीक अहमद सिद्दीकी, डॉ. फाजिल हाशमी, गौसनगर के मो. नियाज व शोला मार्केट के कासिफ खां सहित हजारों लोगों की रही. हर किसी कि रुटीन दिनचर्या पूरी तरह से प्रभावित रही और बिजली-पानी के लिए हाहाकार मचा रहा. न तो रात में नींद पूरी हो सकी और न ही दिन में सुकून मिल सका.

ट्रांसफार्मर आने और उसे लगाने में कितना समय लगेगा, बता नहीं सकते. इसलिए दो-दो घंटे की रोस्टरिंग के अलावा बिजली देने का कोई विकल्प नहीं बचा है.

रविन्द्र पाल, एसडीओ, करेली सब स्टेशन