18

जनवरी से माघ मेला के परेड मैदान में लगेगी खादी प्रदर्शनी

12

फरवरी तक माघ मेला में चलेगी खादी प्रदर्शनी

125

स्टाल लगाए जाएंगे इस बार खादी प्रदर्शनी में

25

प्रतिशत अधिक रखी गई है इस बार स्टाल की संख्या

50

खादी ग्रामोद्योग के उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों के होंगे स्टाल

खादी प्रदर्शनी में पेटीएम और स्वैपिंग मशीन से कैश लेस खरीदारी कर सकेंगे

सुविधाओं का खाका तैयार करने में जुटा खादी ग्रामोद्योग विभाग

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: केन्द्र सरकार की ओर से डिजिटल लेनदेन की व्यवस्था को धीरे-धीरे मूर्त रूप दिया जा रहा है. माघ मेला के परेड ग्राउंड में प्रतिवर्ष लगने वाली खादी प्रदर्शनी में इस बार लेनदेन की पूरी व्यवस्था डिजिटल लुक में है. खादी ग्रामोद्योग विभाग उत्पादों के स्टॉल पर आम लोगों की सुविधा के लिए पेटीएम और स्वैपिंग मशीन की सुविधा देने जा रही है.

भगवामय बनाया गया है मंच

परेड ग्राउंड में खादी के उत्पादों की प्रदर्शनी का आगाज 18 जनवरी को होगा. यह प्रदर्शनी 12 फरवरी तक रहेगी. प्रदर्शनी का उद्घाटन खादी ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी करेंगे. प्रदर्शनी के दौरान प्रतिदिन मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे. इसके लिए मंच को भगवा कलर का लुक दिया जाएगा. मंच पर एक दिन खादी के वस्त्रों पर केन्द्रित फैशन शो का आयोजन होगा. इस शो में रायबरेली के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी के दो दर्जन छात्र-छात्राएं शामिल होंगे. यह आयोजन किस दिन होगा इसकी रुपरेखा दो दिन के भीतर तय कर ली जाएगी.

बाक्स

प्रदर्शनी में ये होंगे खास

- इस बार खादी की प्रदर्शनी में खादी के परिधानों के सवा सौ स्टॉल लगाए जाएंगे. यह आंकड़ा पिछले वर्ष से 25 प्रतिशत ज्यादा है.

- पहली बार उड़ीसा, झारखंड व हिमांचल प्रदेश के खादी उत्पादों का स्टॉल लगाया जाएगा

- खादी ग्रामोद्योग विभाग की ओर से सभी स्टॉल पर स्वैपिंग मशीन और पेटीएम की सुविधा होगी

- प्रदर्शनी में सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश से 50 खादी आश्रम संचालकों की ओर से स्टॉल लगाए जाएंगे

- खादी संचालकों के अलावा कुटीर उद्योग से संबंधित बीस स्टॉल लगाए जाएंगे, इसके लिए जम्मू कश्मीर व हिमांचल प्रदेश से नए लोगों को आमंत्रित किया गया है

- सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अन्तर्गत सुगम संगीत, भजन, कथक व अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा.

इस बार की प्रदर्शनी में नए राज्यों को इंट्री दी गई है. लोगों को भुगतान में दिक्कत न हो इसके लिए स्टॉल पर स्वैपिंग मशीन व पेटीएम उपलब्ध कराई जाएगी. इसके अलावा खादी के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए फैशन शो प्रोग्राम भी कराया जाएगा.

अभय कुमार त्रिपाठी, जोनल ऑफिसर, इलाहाबाद जोन