दुनिया का पहला text message क्‍या था? जानें कम्‍युनिकेशन की 7 बातें जो आप नहीं जानते होंगे

By: Inextlive | Publish Date: Wed 17-May-2017 10:03:03
A- A+
दुनिया का पहला text message क्‍या था? जानें कम्‍युनिकेशन की 7 बातें जो आप नहीं जानते होंगे
आज इस दुनिया में टेलीकम्‍युनिकेशन का क्षेत्र बहुत बड़ा हो चुका है। आज यह तकनीकि बड़े स्‍तर पर लोगों की जीवन शैली का हिस्‍सा बन चुकी है। बावजूद इसके आज भी बहुत से लोगों को नहीं पता है कि दुनिया का पहला टेस्‍क्‍ट मैसेज कौन सा है। इसके अलावा भी इससे जुड़े कई अहम पहलू हैं। ऐसे में अगर आपको भी यह नहीं पता है तो आइए आज वर्ल्‍ड टेलीकम्‍यूनिकेशन डे पर जानें कम्‍युनिकेशन से जुड़ी ये 7 जरूरी बातें...

दुनिया का पहला टेक्‍स्‍ट मैसेज:
दुनिया का पहला टेक्‍सट मैसेज “Merry Christmas” लिखा गया था। यह नील पैपवर्थ ने भेजा था।

सबसे लंबा फोन केबल:
सबसे लंबे फोन केबल को फ्लैग (फाइबर ऑप्टिक लिंक अराउंड द ग्लोब) कहा जाता है। यह 16,800 मील लंबा है। यह जापान को यूनाइटेड किंगडम से जोड़ता है। यह एक समय में यह 600,000 कॉल कर सकता है।



90% टेक्‍सट मैसेज डिलीवर:

करीब 90% टेक्‍सट मैसेज डिलीवर होने के 3 मिनट के अंदर ही पढ लिए जाते हैं।

टेलीफोन का अविष्‍कार:

यू.एस. इतिहास में आज भी टेलीफोन का अविष्‍कार सबसे अधिक लाभदायक माना जाता है।  



एक लाख तार फिट होते:
एक आधा व्यास ट्यूब फाइबर ऑप्टिक केबल के एक लाख तारों को फिट कर सकता है।

इस्‍तेमाल समय देखने के लिए:
मोबाइल का सबसे ज्‍यादा इस्‍तेमाल समय देखने के लिए होता है।



लोगो के पास खुद का मोबाइल:
दुनिया में जितने लोगो के पास खुद की टूथ ब्रश हैं उससे ज्यादा लोगो के पास खुद का मोबाइल हैं।

तैयार हो जाइए, मोबाइल ही नहीं अब टीवी से भी आपको चिपकाए रखेगा फेसबुक

Interesting News inextlive from Interesting News Desk