delete

एक एक्‍टर जो सपा का उम्‍मीदवार था अब बीजेपी का प्रदेश अध्‍यक्ष है, जानें मनोज की खास बातें

By: Inextlive | Publish Date: Wed 01-Feb-2017 10:02:00   |  Modified Date: Wed 01-Feb-2017 10:04:09
- +
एक एक्‍टर जो सपा का उम्‍मीदवार था अब बीजेपी का प्रदेश अध्‍यक्ष है, जानें मनोज की खास बातें
आज विशेष रूप से भोजपुरी फिल्‍मों के सुपरस्‍टार एक्‍टर, सिंगर और डायरेक्‍टर मनोज तिवारी का जन्‍मदिन है। मनोज तिवारी राजनीति में भी काफी सक्रिय हैं और हाल ही में भारतीय जनता पार्टी द्वारा दिल्‍ली इकाई के अध्‍यक्ष नियुक्‍त किए गए हैं। इन दिनों भाजपा के मुखर प्रवक्‍ता मनोज 2009 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं। आइये जानें अभिनेता से नेता बने मनोज तिवारी के बारे में ऐसी ही कुछ रोचक बातें।
  • मनोज तिवारी का जन्‍म बिहार के कैमूर जिले में अतरवलिया गांव में हुआ था। जबकि उनकी शिक्षा मुख्‍य रूप से उत्‍तर प्रदेश के बनारस में हुई।

    मनोज ने आर्दश एसईवीए इंटर कॉलेज से 1987 में बारहवीं की परिक्षा पास की जबकि बनारस हिंदु विश्‍वविद्यालय से उन्‍होंने 1992 में बीएऑनर्स की परीक्षा पास की थी। बनारस हिंदु विश्‍वविद्यालय से ही 1994 में उन्‍होंने मास्‍टर ऑफ फिजिकल एजुकेशन में स्‍नाकोत्‍तर डिग्री प्राप्‍त की।

    2004 में मनोज ने अपनी पहली भोजपुरी फिल्‍म ससुरा बड़ा पैसे वाला में काम किया।
    आयशा ने जैकी श्रॉफ की गर्लफ्रेंड को बता कर बनाया उन्‍हें अपना

  • जबकि उन्‍होंने 2008 में चक दे बच्‍चे नाम के शो से अपना टीवी डेब्‍यु किया। वे एक मशहूर रियल्‍टी शो का भी हिस्‍सा रहे जिसमें भोजपुरी फिल्‍मों में उनकी सह कलाकार श्‍वेता तिवारी भी साथ थीं।

    बताते हैं कि इसी शो में उन दोनों की नजदीकियों के चलते ही मनोज और उनकी पत्‍नी में दूरियां और बढ़ी और बाद में उनका तलाक भी हो गया। मनोज की पत्‍नी रानी को पहले ही उनके और श्‍वेता के संबंधों को लेकर शक था, हालाकि बाद में ये गलत साबित हुआ और श्‍वेता ने अपने पुराने मित्र अभिषेक से शादी कर ली है।

    बतौर गायक मनोज तिवारी का करियर बनारस के मंदिरों से शुरू हुआ जहां वो शीतला घाट और महावीर मंदिर में भजन गाया करते हैं। फिल्‍म गैंग ऑफ वसेपुर के गाने जियो हो बिहार के लाला को बहुत शोहरत मिली।
    600 करोड़ की संपत्‍ति कम ही लोग छोड़ते हैं, प्रीति ने किया ऐसा

    2009 में मनोज समाजवादी पार्टी के उम्‍मीदवार के रूप में गोरखपुर से चुनाव लड़े और भाजपा के योगी आदित्‍यनाथ से हार गए। 2010 में वे अन्‍ना के भ्रष्‍टाचार विरोधी आंदोलन के साथ जुड़ कर चर्चा में आये।

  • 2014 के आम चुनावों में मनोज तिवारी उत्तर पूर्वी दिल्ली लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार घोषित किए गए और चुनाव जीत गए।

    मनोज राजनीति में अपने विवादित बोलों के लिए बड़े चर्चित रहे हैं। उन्‍होंने आमिर खान को गद्दार भी कहा था। हालाकि बाद में उन्‍होंने इस बात से इंकार किया था लेकिन वो दूसरे नेताओं पर भी तीखी टिप्‍पणीं करते रहे हैं।
    सिमला प्रसाद: एक आईपीएस अधिकारी जो बन गयी बॉलीवुड एक्‍टर

    मनोज तिवारी क्रिकेट के बड़े प्रशंसक है और बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय की ओर से खेलते रहे हैं। उन्‍होंने अपने गृह क्षेत्र में इंडियन प्रीमियर लीग टीम बनाने की भी कोशिश की थी। मनोज बिहार क्रिकेट की कीर्ति आजाद एसोसिएशन से भी जुड़े रहे हैं। उन्होने 2011 में कहा था कि वे वर्ल्‍ड कप जीतने वाली टीम इंडिया को समर्पित एक मंदिर बनवाएँगे। उन्होंने यह भी कहा है कि वो अपने जन्‍म स्‍थान कैमूर जिले में एक विश्व स्तर के क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कराने की योजना बना रहे हैं।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk